हिंदी करेंट अफेयर्स प्रश्नोत्तरी : 19 अगस्त, 2023

1. जुलाई 2023 में भारत में थोक मुद्रास्फीति कितनी दर्ज की गई?

उत्तर – (-)1.36%

थोक मूल्य आधारित मुद्रास्फीति जुलाई में लगातार चौथे महीने (-)1.36% नकारात्मक क्षेत्र में रही। इसका कारण ईंधन की कीमतों में नरमी है। थोक मूल्य सूचकांक (WPI) आधारित मुद्रास्फीति दर अप्रैल से नकारात्मक है और जून में (-)4.12% थी। पिछले साल जुलाई में यह 14.07% थी।

2. भारत के नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक (CAG) ने किस योजना में अनियमितताएं उजागर की हैं?

उत्तर – भारतमाला कार्यक्रम

भारत के नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक (CAG) ने केंद्र सरकार द्वारा वित्त पोषित राजमार्ग परियोजनाओं को लागू करने वाली एजेंसियों द्वारा परियोजनाओं के आवंटन में अनियमितताएं पाई हैं। एक्सप्रेसवे के हरियाणा हिस्से पर एलिवेटेड कैरिजवे चुनने के NHAI के फैसले ने निर्माण लागत को मूल रूप से स्वीकृत 18.2 करोड़ रुपये प्रति किमी से बढ़ाकर 251 करोड़ रुपये प्रति किमी कर दिया है। NHAI भारतमाला कार्यक्रम के तहत एक्सप्रेसवे का निर्माण कर रहा है।

3. माउई द्वीप (Maui Island), जो खबरों में देखा गया था, किस देश में स्थित है?

उत्तर – अमेरिका

माउई दूसरा सबसे बड़ा हवाई द्वीप है, जो अमेरिका में स्थित है। अमेरिका में हाल की प्राकृतिक आपदा में, पूरे हवाई, विशेष रूप से माउई द्वीप में कई जंगल की आग फैल रही है, जिसके परिणामस्वरूप 55 मौतें, महत्वपूर्ण विस्थापन और संरचनाओं और व्यवसायों का विनाश हुआ है।

4. हाल ही में 2023 में भारतीय राष्ट्रपति द्वारा उद्घाटन किए गए प्रोजेक्ट 17A फ्रिगेट का नाम क्या है?

उत्तर – विंध्यगिरि

राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने कोलकाता में गार्डन रीच शिपबिल्डर्स एंड इंजीनियर्स लिमिटेड में प्रोजेक्ट 17ए फ्रिगेट विंध्यगिरी का उद्घाटन किया। यह प्रोजेक्ट 17ए फ्रिगेट की श्रृंखला में छठा पोत है। मझगांव डॉक शिपबिल्डर्स लिमिटेड (MDL) और GRSE में सात प्रोजेक्ट 17ए फ्रिगेट निर्माण के विभिन्न चरणों में हैं।

5. 2015 में किस देश ने ‘स्पंज सिटी पहल’ शुरू की?

उत्तर – चीन

शहरी बाढ़ के खतरों को कम करने के लिए चीन की स्पंज सिटी पहल 2015 में शुरू की गई थी। इसमें बुनियादी ढांचे, वास्तुशिल्प और इंजीनियरिंग बदलावों के माध्यम से वर्षा जल का बेहतर उपयोग करने का प्रयास किया गया। चीन हाल के सप्ताहों में विनाशकारी बाढ़ की चपेट में आया है, शहरों को नुकसान पहुंचा है और मौतें और ढांचागत क्षति हुई है। जैसा कि दावा किया गया था, “स्पंज सिटी” पहल शहरी बाढ़ के खतरों को कम करने में प्रभावी साबित नहीं हुई।

Advertisement

Comments