करेंट अफेयर्स एवं हिन्दी समाचार सारांश

महाराष्ट्र सरकार ने शहीद सैनिकों के परिवार को दी जाने वाली वित्तीय सहायता को बढ़ाकर 1 करोड़ रुपये किया

महाराष्ट्र सरकार ने शहीद होने तथा अक्षम (disabled) हो जाने वाले सैनिकों को दी जाने वाली वित्तीय सहायता में वृद्धि को मंज़ूरी दे दी है। इससे पहले महाराष्ट्र के सैनिक के शहीद होने पर राज्य सरकार द्वारा 25 लाख रुपये प्रदान किये जाते थे, अब इस राशि में चार गुणा वृद्धि की गयी है। बढ़ी हुई राशि 1 जनवरी, 2019 से लागु होगी।

मुख्य बिंदु

हाल ही में केंद्र सरकार तथा कई राज्य सरकारों ने भी शहीदों के परिवारों को दी जाने वाली वित्तीय सहायता में वृद्धि की थी। पुलवामा आतंकी हमले के बाद केंद्र ने शहीद सैनिकों के परिवारों को दी जाने वाली राशि को बढ़ाकर 1 करोड़ रुपये कर दिया था।

घायल होने वाले जवानों को पहले 8.5 लाख रुपये से 15 लाख रुपये प्रदान किये जाते थे, अब इस राशि को बढ़ाकर 20-60 लाख रुपये कर दिया गया है।

इस बढ़ी हुई राशि का लाभ उन सैनिकों के परिवारों को होगा जो महाराष्ट्र के निवासी हैं और जो भारतीय सेना, नौसेना, वायुसेना, BSF तथा CRPF इत्यादि में कार्यरत्त हैं।

यदि जवान शहीद हो जाता है तो उनके परिवार को 1 करोड़ रुपये दिए जायेंगे।

1 से 25% अक्षमता (disability) पर 20 लाख रुपये दिए जायेंगे।

26 से 50% अक्षमता (disability) पर 34 लाख रुपये दिए जायेंगे।

51 से 100% अक्षमता (disability) पर 60 लाख रुपये दिए जायेंगे।

Categories:

Month:

Tags: , , ,

हिमा दास ने 15 दिन के भीतर चौथा स्वर्ण पदक जीता

भारत की हिमा दास ने 15 के भीतर चौथा स्वर्ण पदक अपने नाम कर लिया है, यह पदक उन्होंने चेक गणराज्य में 200 मीटर की दौड़ में जीता। उन्होंने 200 मीटर की इस दौड़ को मात्र 23.25 सेकंड में पूरा किया।

हिमा दास

हिमा दास का जन्म 9 जनवरी, 2000 को असम के नागाओं जिले में कन्धुलिमारी गाँव में हुआ था। उनके पिताजी पेशे से किसान हैं और चावल की खेती करते हैं। हाल ही में संपन्न एशियाई खेलों में हिमा दास ने 400 मीटर की फाइनल दौड़ में क्वालीफाई करने के लिए 51.00 के समय के साथ राष्ट्रीय रिकॉर्ड स्थापित किया था। इस स्पर्धा में उन्होंने 50.79 की टाइमिंग के साथ रजत पदक जीता। एशियाई खेल 2018 में उन्होंने महिलाओं की 4X400 मीटर रिले में स्वर्ण पदक जीता था। एशियाई खेलों में ही उन्होंने मिश्रित 4X400 मीटर रालय में रजत पदक जीता था। IAAF अंडर-20 एथलेटिक्स चैंपियनशिप 2018 में उन्होंने ट्रैक इवेंट में स्वर्ण पदक जीता था, वे यह उपलब्धि प्राप्त करने वाली पहली भारतीय महिला एथलीट हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , , , ,

Advertisement