काराकास में गुट निरपेक्ष आंदोलन की मंत्रिस्तरीय बैठक का आयोजन किया गया

वेनेज़ुएला की राजधानी काराकास में गुट निरपेक्ष आंदोलन की मंत्रिस्तरीय बैठक में भारत का प्रतिनिधित्व संयुक्त राष्ट्र में भारत के दूत सैय्यद अकबरुद्दीन द्वारा किया गया। भारत ने इस बैठक में पाकिस्तान द्वारा कश्मीर मुद्दा उठाये जाने का कड़ा विरोध किया है।

2016 से गुट निरपेक्ष आन्दोलन की अध्यक्षता वेनेज़ुएला के पास है, अक्टूबर, 2019 में अध्यक्षता अज़रबैजान को सौंपी जाएगी।

गुट निरपेक्ष आंदोलन

गुट निरपेक्ष आंदोलन की आन्दोलन 1961 में बेलग्रेड में की गयी थी, इसमें भारत के तत्कालीन प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरु तथा यूगोस्लाविया के राष्ट्रपति जोसिप ब्रोज़ टिटो ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी। यह शीत युद्ध के दौरान अस्तित्व में आया था, इसका उद्देश्य नव स्वतंत्र देशों को किसी गुट (अमेरिका व सोवियत संघ) में शामिल होने के बजाय तटस्थ रखना था। गुट निरपेक्ष आन्दोलन के 120 सदस्य तथा 17 पर्यवेक्षक हैं।

Month:

Categories:

Tags: , , ,

« »

Advertisement

Comments