ग्लोबल इकनोमिक प्रोस्पेक्टस रिपोर्ट 2019 : मुख्य बिंदु

विश्व बैंक ने हाल ही में ग्लोबल इकनोमिक प्रोस्पेक्टस रिपोर्ट 2019 को जारी किया गया, इसका टाइटल “डार्केनिंग स्काइज” रखा गया है। भारत के सन्दर्भ में इस रिपोर्ट के मुख्य बिंदु निम्नलिखित हैं:

  • वित्त वर्ष 2018-19 में भारत की जीडीपी की विकास दर 7.3% रहने का अनुमान है। इसके अगले दो वर्षों में विकास दर 7.5% रहने का अनुमान है। विकास दर में इस वृद्धि का प्रमुख कारण उपभोग तथा निवेश में होने वाली वृद्धि है।
  • भारत बड़ी अर्थव्यवस्थाओं में सबसे तीव्र गति से वृद्धि करेगी। चीन की विकास दर 2019 और 2020 में 6.2% तथा 2021 में 6% रहने का अनुमान है।
  • सरकार द्वारा किये गये आर्थिक सुधारों का परिणाम अब दृश्यमान हो रहा है, इससे घरेलु मांग में मजबूती आई है।
  • भारत के सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक बैंकिंग सेक्टर एसेट्स का 70% हिस्सा है, परन्तु सार्वजानिक क्षेत्र के बैंकों के लाभ अभी भी काफी निम्न है और उनके नॉन-परफोर्मिंग एसेट्स काफी अधिक हैं।

इस रिपोर्ट में कहा गया है कि अन्य उभरते हुए बाजारों की अपेक्षा भारत का प्रदर्शन काफी शानदार रहा है।

विश्व बैंक

विश्व बैंक का मुख्यालय वाशिंगटन डी. सी. में है। इसके अध्यक्ष जिम योंग किम है। इसकी स्थापना जुलाई 1945 को हुई थी।
विश्व बैंक ऋण देने वाली एक ऐसी संस्था है जिसका उद्देश्य विभिन्न देशों की अर्थ व्यवस्थाओं को एक व्यापक विश्व अर्थव्यवस्था में शामिल करना और विकासशील देशों में ग़रीबी उन्मूलन के प्रयास करना है।

Month:

Categories:

Tags: , , , , , ,

« »

Advertisement

Comments