न्यूयॉर्क में किया गया संयुक्त राष्ट्र जलवायु शिखर सम्मेलन 2019 का आयोजन

संयुक्त राष्ट्र जलवायु शिखर सम्मेलन 2019 का आयोजन न्यूयॉर्क में किया गया।  इस शिखर सम्मेलन का उद्देश्य पेरिस समझौते का शीघ्र क्रियान्वयन सुनिश्चित करना है। इस शिखर सम्मेलन में 9 स्वतंत्र ट्रैक्स पर फोकस किया गया है। ‘इंडस्ट्री ट्रांजीशन’ ट्रैक का नेतृत्व भरता और स्वीडन द्वारा किया जा रहा है जबकि विश्व आर्थिक फोरम द्वारा इसका समर्थन किया जा रहा है।

शिखर सम्मेलन के एक्शन पोर्टफोलियो

1. उर्जा रूपांतरण : जीवाश्म इंधन से नवीकरणीय उर्जा की ओर तीव्र स्थानांतरण।

2. उद्योग रूपांतरण : स्टील, रसायन, तेल व गैस तथा सीमेंट जैसे उद्योगों का रुपातंरण।

3. प्रकृति आधारित समाधान : उत्सर्जन में कमी करके महासागरों, वनों तथा कृषि की प्रतिरोध क्षमता में वृद्धि करना।

4. शहर व स्थानीय कारवाई : कम उत्सर्जन वाले भवनों तथा परिवहन साधनों का निर्माण करना।

5. प्रतिरोध क्षमता

6. जलवायु वित्त तथा कार्बन मूल्य निर्धारण

7. न्यूनीकरण : राष्ट्रीय स्तर पर निश्चित योगदान को गति देना तथा पेरिस समझौते के लक्ष्यों को हासिल करने के लिए दीर्घकालीन रणनीतियों का निर्माण करना।

8. जन सहभागिता : जलवायु परिवतन के विरुद्ध कारवाई करने के लिए जनसहभागिता को बढ़ावा देना तथा युवाओं को इसमें शामिल करना।

9. सामाजिक तथा राजनीतिक प्रोत्साहन : वायु प्रदूषण को कम करने के लिए प्रतिबद्धता तथा संकटग्रस्त समूहों की सुरक्षा करना।

उद्योग रूपांतरण

भारत और स्वीडन के प्रधानमंत्री 24 सितम्बर, 2019 को नया लीडरशिप ग्रुप लांच करेंगे, यह समूह 3 स्तंभों पर कार्य करेगा

  • सार्वजनिक-निजी सहयोग
  • उद्योग की प्रतिबद्धता
  • नवाचार तथा तकनीक आदान-प्रदान

2018 में इस सम्मेलन का आयोजन कैलिफ़ोर्निया में किया गया था। इसका उद्देश्य पेरिस समझौते के क्रियान्वयन के लिए विश्व भर के नेताओं को एकजुट करना है।

Month:

Categories:

Tags: , , , ,

« »

Advertisement

Comments