ब्लैकहोल का पहला चित्र लेने वाली वैज्ञानिक टीम को ‘ब्रेकथ्रू प्राइज’ से सम्मानित किया जायेगा

ब्लैकहोल का पहला चित्र लेने वाली वैज्ञानिक टीम को ‘ब्रेकथ्रू प्राइज’ से सम्मानित किया जायेगा। ‘ब्रेकथ्रू प्राइज’ को  विज्ञान का ऑस्कर पुरस्कार भी कहा जाता है। वैज्ञानिकों की इस टीम को 3 मिलियन डॉलर की इनामी राशी भी दी जाएगी, इस इनामी राशी का वितरण 347 वैज्ञानिकों की टीम में किया जायेगा।

ब्लैक होल: ब्लैक होल (कृष्ण विवर) एक शक्तिशाली गुरुत्वाकर्षण युक्त खगोलीय क्षेत्र होता है जिसकी गुरुत्वाकर्षण शक्ति से प्रकाश भी नहीं बच सकता।

वैज्ञानिकों ने हाल ही में पहली बार ब्लैक होल का चित्र लिया था। इसके लिए शोध कार्य इवेंट होराइजन टेलिस्कोप (EHT) प्रोजेक्ट के तहत किया गया। यह कार्य 2012 में शुरू हुआ था। इसके लिए विश्व में 6 स्थानों पर टेलिस्कोप तैनात किये गये थे। वैज्ञानिकों ने जिस ब्लैक होल का चित्र लेने में सफलता प्राप्त की है, यह मेसियर 87 अथवा M87 गैलेक्सी के केंद्र  में है। यह ब्लैक होल पृथ्वी से लगभग 54 मिलियन प्रकाश वर्ष दूर है। इसका द्रव्यमान सूर्य से 6.5 अरब गुणा अधिक है।

Month:

Categories:

Tags: , , ,

« »

Advertisement

Comments