भारतीय अंगदान दिवस

30 नवम्बर को भारतीय अंगदान दिवस मनाया जाता है। इसका उद्देश्य लोगों को मृत्यु के पश्चात् अंगदान के लिए प्रेरित करना है। इस दिवस के द्वारा अंगदान के महत्व के बारे में जागरूकता फैलाने का प्रयास किया जाता है। अंगदान में व्यक्ति का ह्रदय, यकृत, गुर्दे, आंत, फेफड़े, अग्नाशय इत्यादि का दान किया जाता है। यह अंग किसी ज़रूरतमंद व्यक्ति को प्रत्यारोपित किये जा सकते हैं।

राष्ट्रीय अंग व उत्तक प्रत्यारोपण संगठन (NOTTO)

केंद्र सरकार ने मानव अंग प्रत्यारोपण (संशोधन) अधिनियम, 2011 के अंतर्गत राष्ट्रीय अंग व उत्तक प्रत्यारोपण संगठन (NOTTO) की स्थापना की है। अंग दान तथा इसे बढ़ावा देने के लिए सारी व्यवस्था राष्ट्रीय अंग व उत्तक प्रत्यारोपण संगठन (NOTTO) द्वारा की जाती है।

भारत में अंगदान

Global Observatory on Donation and Transplantation में उपलब्ध डाटा के अनुसार विश्व में अंग दान के मामले में अमेरिका के बाद भारत दुसरे स्थान पर है। परन्तु जनसँख्या की दृष्टि से अंगदान की दर काफी कम है।

Month:

Categories:

Tags: , , , ,

« »

Advertisement

Comments