भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण (AAI) ने अमेरिकी व्यापार व विकास एजेंसी के साथ आधुनिकीकरण रोडमैप तैयार करने के लिए समझौता किया

भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण (Airport Authority of India) ने अमेरिकी व्यापार व विकास एजेंसी (USTDA) के साथ हवाई यातायात सेवा के आधुनिकीकरण रोडमैप तैयार करने के लिए समझौता किया। हवाई यातायात सेवा में हवाई ट्रैफिक प्रबंधन, संचार, नेविगेशन तथा निगरानी इत्यादि कार्य शामिल हैं।

मुख्य बिंदु

भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण (Airport Authority of India) तथा अमेरिकी व्यापार व विकास एजेंसी (USTDA) कके द्वारा राष्ट्रीय हवाई क्षेत्र प्रणाली (NAS) के आधुनिकीकरण के लिए कार्य किया जायेगा। इस समझौते के तहत अमेरिकी एयरक्राफ्ट कंपनी बोइंग तकनिकी सहायता प्रदान करेगी। इससे भारत में हवाई यातायात का प्रबंधन संभव हो सकेगा तथा हवाई यात्रा भी सुरक्षित होगी।

पृष्ठभूमि

भारत में पिछले 49 महीनों में हवाई यात्रियों की संख्या में दो अंकीय वृद्धि हुई है, इस वृद्धि के साथ-साथ कई चुनौतियाँ भी उत्पन्न हुई हैं। इनमे यात्रा सुरक्षा तथा कुशल एयरक्राफ्ट ऑपरेशन प्रमुख हैं। AAI और USTDA द्वारा संयुक्त रूप से कार्य करने से भारतीय हवाई परिवहन क्षेत्र की समस्याओं का समाधान करने का प्रयास किया जायेगा। इसके लिए आवश्यक तकनीकी सहायता भी प्राप्त की जाएगी।

भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण (Airport Authority of India)

भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण (Airport Authority of India) केन्द्रीय नागरिक विमानन मंत्रालय के अधीन एक वैधानिक संगठन है। यह भारत में नागरिक विमानन अधोसंरचना प्रबंधन, अपग्रेडेशन इत्यादि कार्य करता है। इसकी स्थापना 1995 में हुई थी, इसका मुख्यालय नई दिल्ली में स्थित है। यह भारतीय हवाई क्षेत्र में हवाई यातायात प्रबंधन सेवा भी प्रदान करता है। यह भारत में 125 हवाईअड्डों का प्रबंधन करता है, इसमें 17 अंतर्राष्ट्रीय हवाईअड्डे, 7 सीमाशुल्क हवाईअड्डे, 78 घरेलु हवाईअड्डे इत्यादि शामिल हैं।

Month:

Categories:

Tags: , , ,

« »

Advertisement

Comments