भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण : ई-आधार के लिए एक नया क्यूआर कोड आरम्भ किया गया

भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (यूआईडीएआई) ने ई-आधार के लिए एक नया क्यूआर कोड आरम्भ किया है। इस क्यूआर कोड में अब आधार धारक की जानकारी के साथ साथ-साथ फोटो भी होगी।ई-आधार पर क्यूआर कोड की जगह नया क्यूआर कोड शुरू हो गया है।

मुख्य तथ्य

o इस कोड में केवल आधार धारक से जुड़ी जानकारी होती थी। नए कोड में उसकी फोटो भी होगी।
o क्यूआर कोड बारकोड लेबल का ही एक रूप है जिसमें छुपी सूचनाओं को मशीन पढ़ सकती हैं।
o ई-आधार, 12 अंकों की विशेष संख्या का इलेक्ट्रॉनिक संस्करण है।
o बैंक जैसे संस्थान अब आधार कार्ड का सत्यापन ऑफलाइन भी कर पाएंगे।
o यह आधार कार्ड के त्वरित सत्यापन की सरल ‘ऑफलाइन’ प्रणाली है।
o ऑफलाइन सत्यापन की इस सुविधा से एक और विकल्प उपलब्ध होगा और यह सुनिश्चित होगा कि धारक को आधार से जुड़ी किसी सेवा से वंचित नहीं किया जाए,

भारतीय विशिष्‍ट पहचान प्राधिकरण

वर्ष 2009 में गठित भारत सरकार का एक प्राधिकरण है जिसका भारत के प्रत्येक नागरिक को एक बहुउद्देश्यीय राष्ट्रीय पहचान पत्र उपलब्ध करवाने की सरकार की एक महत्वाकांक्षी योजना के अन्तर्गत गठन किया गया। इस परियोजना का प्रमुख उद्देश्य भारत के प्रत्येक नागरिक को प्रारंभिक चरण में पहचान प्रदान करने एवं प्राथमिक तौर पर प्रभावशाली जनहित सेवाऐं उपलब्ध कराना है।

Month:

Categories:

Tags: , , , ,

« »

Advertisement

Comments