यूनाइटेड किंगडम के गृह सचिव ने विजय माल्या के प्रत्यर्पण को मंज़ूरी दी

यूनाइटेड किंगडम के गृह सचिव ने विजय माल्या के प्रत्यर्पण के लिए मंज़ूरी दे दी है, भारत में विजय माल्या पर लगभग 9,000 करोड़ रुपये के फ्रॉड का मामला दर्ज है। हाल ही में उन्हें  धन शोधन रोकथाम न्यायालय ने विजय माल्या को भगौड़ा आर्थिक अपराधी घोषित किया था। इस प्रकार विजय माल्या नए भगौड़ा आर्थिक अपराधी अधिनियम, 2018 के तहत दोषी घोषित किये जाने वाले पहले बिज़नेसमैन बने।

मुख्य बिंदु

विजय माल्या ने 17 भारतीय बैंकों से लगभग 9,000 करोड़ रुपये ऋण में लिए। इन 17 बैंकों ने मार्च, 2016 में संयुक्त याचिका दायर करके विजय माल्या के भारत छोड़ने पर रोक लगाने की मांग की थी। परन्तु तब तक विजय माल्या देश छोड़ कर यूनाइटेड किंगडम जा चुके थे। विजिय माल्या पर आयकर विभाग तथा केन्द्रीय अन्वेषण ब्यूरो वित्तीय फ्रॉड तथा धन शोधन जैसे अपराधों की जांच कर रहीं हैं। 18 अप्रैल, 2017 को भारतीय एजेंसियों की मांग पर विजय माल्या को यूनाइटेड किंगडम मेट्रोपोलिटन पुलिस ने गिरफ्तार किया था, परन्तु बाद में उन्हें ज़मानत पर छोड़ दिया था। 9 मई, 2017 को भारत के सर्वोच्च न्यायालय ने विजय माल्या को न्यायालय की अवमानना का दोषी पाया था।

Month:

Categories:

Tags: , , , , , ,

« »

Advertisement

Comments