राष्ट्रीय जनजातीय शिल्पकला मेला-2019 का आयोजन भुबनेश्वर में किया जा रहा है

ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने राष्ट्रीय जनजातीय शिल्पकला मेला-2019 का उद्घाटन किया। इस सात दिवसीय इवेंट का आयोजन 23 से 29 नवम्बर के दौरान किया जा रहा है।

राष्ट्रीय जनजातीय शिल्पकला मेला-2019

राष्ट्रीय जनजातीय शिल्पकला मेले का आयोजन प्रतिवर्ष किया जाता है, इसका उद्देश्य जनजातीय कला व शिल्प का संरक्षण करना तथा इसे बढ़ावा देना है। इसके द्वारा जनजातीय शिल्पकारों को अपने कौशल को बेहतर बनाने के अवसर मिलेंगे।

इस मेले में 18 राज्यों (सिक्किम, तमिलनाडु, महाराष्ट्र, आंध्र प्रदेश, मध्य प्रदेश,कर्नाटक, पश्चिम बंगाल, मणिपुर, छत्तीसगढ़, राजस्थान, तेलंगाना, गुजरात, उत्तर प्रदेश, असम, नागालैंड, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड तथा ओडिशा) के कलाकार हिस्सा ले रहे हैं। इसमें सरकारी तथा गैर सरकारी संस्थाएं भी हिस्सा ले रही हैं, इनमे प्रमुख है  : TRIFED, TDCC, OTDC, वर्ल्ड एक्ट, अन्वेषा, SCSTRTI तथा ATLC।

इस मेले में हथकरघा उत्पाद, जनजातीय आभूषण, बांस उत्पाद, कठपुतलियां, सबाई तथा सियाली क्राफ्ट, जनजातीय वस्त्र व कढ़ाई से सम्बंधित उत्पाद प्रदर्शित किये जा रहे हैं।

Month:

Categories:

Tags: , , , , , , , ,

« »

Advertisement

Comments