वाईस एडमिरल जी. अशोक कुमार ने नौसेना के उप-प्रमुख का कार्यभार संभाला

वाईस एडमिरल जी. अशोक कुमार ने नौसेना के उप-प्रमुख का कार्यभार संभाला। वे सैनिक स्कूल, अमरावती नगर तथा राष्ट्रीय रक्षा अकादमी खडकवासला, पुणे के छात्र हैं। उन्हें 1 जुलाई, 1982 को भारतीय नौसेना की कार्यकारी शाखा में कमीशन किया गया था। वे तीन दशक लम्बे अपने करियर में विभिन पदों पर चुनौतीपूर्ण कार्य कर चुके हैं। उन्होंने आईएनएस व्यास, निलगिरी, रणवीर तथा विक्रांत में नैविगेटिंग ऑफिसर के रूप में कार्य किया है।

भारतीय नौसेना

देश की समुद्री सीमाओं की सुरक्षा का भार भारतीय नौसेना पर है। वर्तमान में भारतीय नौसेना में 67,228 सैनिक/कर्मचारी कार्यरत्त हैं। भारतीय नौसेना की स्थापना 1612 ईसवी में हुई थी। महान मराठा शासक छत्रपति शिवाजी को भारतीय नौसेना का पिता कहा जाता है।भारतीय नौसेना का आदर्श वाक्य “शं नो वरुणः” है।

मार्च 2018 के अनुसार भारतीय नौसेना के पास एक एयरक्राफ्ट कैरिएर, 1 उभयचर परिवहन डॉक, 8 लैंडिंग शिप टैंक, 11 डिस्ट्रॉयर, 13 फ्रिगेट, 1 परमाणु उर्जा संचालित पनडुब्बी, 1 बैलिस्टिक मिसाइल युक्त पनडुब्बी, 14 परंपरागत पनडुब्बीयां, 22 कार्वेट, 4 फ्लीट टैंकर तथा अन्य कई पोत हैं।

Month:

Categories:

Tags: , , , , ,

« »

Advertisement

Comments