अर्थव्यवस्था करेंट अफेयर्स

ईएसआईसी सामाजिक सुरक्षा योजना में नामांकन में 821,000 की वृद्धि दर्ज की गयी

23 मई, 2020 को कर्मचारी राज्य बीमा निगम (ESIC) का पेरोल डेटा जारी किया गया। इन आंकड़ों में कहा गया है कि लगभग 821,000 नए सदस्य ईएसआईसी सामाजिक सुरक्षा योजना में शामिल हुए हैं।

मुख्य बिदु

इस डाटा को राष्ट्रीय सांख्यिकी कार्यालय (NSO) द्वारा जारी किया गया था। आंकड़ों के अनुसार 2018-19 में योजना के ग्राहक 14.9 मिलियन थे और मार्च 2020 में यह बढ़कर 38.3 मिलियन हो गए।

NSO रिपोर्ट कई सामाजिक सुरक्षा योजनाओं जैसे PFRDA, EPFO ​​का डाटा जारी करता है।

कर्मचारी राज्य बीमा कारपोरेशन (ESIC)

यह केन्द्रीय श्रम व रोज़गार मंत्रालय के अधीन एक स्वायत्त कारपोरेशन है। यह कर्मचारियों के बीमा का प्रबंधन करता है। इसकी स्थापना कर्मचारी राज्य बीमा अधिनियम, 1948 के तहत की गयी थी। इसकी स्थापना 24 फरवरी, 1951 को की गयी थी। इसका मुख्यालय नई दिल्ली में स्थित है। ESIC में दक्षिण एशिया के लिए ISSA का सम्पर्क कार्यालय भी स्थित है। यह संपर्क कार्यालय भूटान, बांग्लादेश, श्रीलंका, नेपाल तथा ईरान में ISSA के सदस्य संगठनों के साथ सामाजिक सुरक्षा के लिए समन्वय करता है।

योजना में हालिया बदलाव

जून, 2020 से भारत सरकार ने इस योजना के तहत योगदान की दर कम कर दी है। नियोक्ता का योगदान 4.75% से घटाकर 3.25% और कर्मचारी का योगदान 1.75% से घटाकर 0.75% कर दिया गया है। साथ ही, जो कर्मचारी 137 रुपये या उससे कम प्रति दिन कमा रहे हैं, उन्हें उनके योगदान के भुगतान से छूट दी गई है।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , , ,

विश्व इस्पात की रिपोर्ट: भारत के इस्पात उत्पादन में 65% की गिरावट आई

24 मई, 2020 को वर्ल्ड स्टील एसोसिएशन ने वर्ल्ड स्टील रिपोर्ट जारी की। इस रिपोर्ट के अनुसार, भारत में क्रूड स्टील में 65% की गिरावट आई है। अप्रैल 2020 के दौरान, भारत का इस्पात उत्पादन 3.13 मिलियन टन था।

मुख्य बिंदु

अप्रैल 2019 में भारत ने 9.02 मिलियन टन का उत्पादन किया। मार्च 2020 में, भारत को मार्च 2019 की तुलना में 14% इस्पात उत्पादन में गिरावट का सामना करना पड़ा। इस रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि वैश्विक इस्पात उत्पादन में 13% की गिरावट आई है। अप्रैल 2019 में, वैश्विक इस्पात उत्पादन 157.67 मिलियन टन था। अप्रैल 2020 में, उत्पादन घटकर 137.09 मिलियन टन रह गया।

रिपोर्ट की मुख्य बातें

चीन ने इस्पात उत्पादन में 1.7% की गिरावट दर्ज की है। यह पहली बार है जब चीन उत्पादन में गिरावट का सामना कर रहा है। अमेरिका को 32% की गिरावट का सामना करना पड़ा। दक्षिण कोरिया के इस्पात उत्पादन में 8.4% की गिरावट आई है। यूरोपीय संघ, फ्रांस, इटली, तुर्की, स्पेन, रूस, यूक्रेन और ब्राजील जैसे अन्य वैश्विक इस्पात उत्पादकों को भी अपने उत्पादन में गिरावट का सामना करना पड़ा।

राष्ट्रीय इस्पात नीति

भारत वर्तमान में अपनी राष्ट्रीय इस्पात नीति 2017 के तहत काम कर रहा है। इस नीति के तहत, भारत को 2030 तक अपने इस्पात उत्पादन को 300 मिलियन टन तक बढ़ाना है। इसका उद्देश्य भारत को इस्पात में आत्मनिर्भर बनाना है। इसका उद्देश्य देश में वैश्विक रूप से प्रतिस्पर्धी स्टील औद्योगिक उत्पादन सुनिश्चित करना है।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , ,

Advertisement