अर्थव्यवस्था करेंट अफेयर्स

भारत ने 29 अमेरिकी उत्पादों पर लागू किया अतिरिक्त आयात शुल्क

भारत ने अमेरिका के साथ चल रही व्यापारिक अनबन के जवाब में 29 वस्तुओं पर आयात शुल्क बढ़ाया है जिनमें काला चना, मसूर,  बादाम, अखरोट, और सेब आदि जैसी कई वस्तुएं शामिल है. अब भारत में अमेरिका से आने वाली इन वस्तुओं का मूल्य बढ़ जाएगा. अमेरिका द्वारा भारतीय स्टील और एल्युमीनियम उत्पादों पर कर बढ़ाने के जवाब में भारत द्वारा यह कदम उठाया गया है. अमेरिका द्वारा लागू किए गए अतिरिक्त कर से भारत पर 24 करोड़ डॉलर के शुल्क का बोझ बढ़ा था.

मुख्य तथ्य

पिछले सप्ताह भारत ने विश्व व्यापार संगठन को 30 उत्पादों की सूची भेजी थी, जिस पर भारत ने 50 प्रतिशत का आयात शुल्क बढ़ाने की मंशा जताई थी. विश्व व्यापार संगठन को सौपीं गई सूची में से केवल 800 सीसी से अधिक क्षमता की बाइकों पर आयात शुल्क नहीं बढ़ाया गया बाकी अन्य सभी 29 वस्तुओं पर अतिरिक्त आयात शुल्क लागू किया गया है. वित्त मंत्रालय के अनुसार इन वस्तुओं पर लगाया गया यह अतिरिक्त आयात शुल्क 4 अगस्त से प्रभावी रहेगा. भारत सरकार द्वारा जिन 29 वस्तुओं पर आयात शुल्क बढ़ाया गया है वे कुछ इस प्रकार से है.

काला चना और काबुली चना पर आयात शुल्क 30 प्रतिशत से बढ़ाकर 70 प्रतिशत, मसूर पर 30 प्रतिशत से बढ़ाकर 40 प्रतिशत, बादाम गिरी पर आयात शुल्क 100 रुपये से बढ़ाकर 120 रुपये प्रति किलो, साबुत बादाम पर आयात शुल्क 35 रुपये से बढ़ाकर 42 रुपये प्रति किलो, अखरोट पर शुल्क 30 प्रतिशत से बढ़ाकर 120 प्रतिशत किया गया है. जबकि अमेरिकी सेब पर शुल्क 50 प्रतिशत से बढ़ाकर 75 प्रतिशत, फॉस्फोरिक एसिड पर 10 प्रतिशत से बढ़ाकर 20 प्रतिशत तथा बोरिक एसिड पर शुल्क बढ़ाकर 17.50 प्रतिशत, डायग्नोस्टिक रीजेंट्स पर शुल्क 10 प्रतिशत से बढ़ाकर 20 प्रतिशत, फाउंड्री मोल्ड के लिए बाइंडर्स पर शुल्क 17.5 प्रतिशत किया गया है. आयरन के फ्लैट रोल्ड उत्पादों पर शुल्क 15 प्रतिशत से बढ़ाकर 27.50 प्रतिशत और स्टेनलेस स्टील के कुछ फ्लैट रोल्ड उत्पादों पर 15 प्रतिशत से बढ़ाकर 22.5 प्रतिशत किया गया है. श्रिम्प आर्टेमिया (मछली की एक किस्म) पर शुल्क बढ़ाकर 30 प्रतिशत किया गया है. अतिरिक्त आयात शुल्क लागू किए जाने वाले उत्पादो में नाशपाती, स्टील ट्यूब और पाइप फिटिंग जैसे अन्य कई उत्पाद और भी शामिल हैं.

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , , , , ,

अमेरिका ने 50 अरब डॉलर के चीनी सामानों पर 25% टैरिफ लगाया

संयुक्त राज्य अमेरिका ने 50 अरब अमेरिकी डॉलर के आयातित चीनी सामानों पर 25% का टैरिफ लागू कर दिया है. अमेरिका ने चीन पर बौद्धिक संपदा (आईपी) की चोरी और अनुचित व्यापार प्रथाओं का आरोप लगाया है. इस फैसले ने दुनिया की दो सबसे बड़ी शीर्ष अर्थव्यवस्थाओं के बीच व्यापार टकराव की स्थिति पैदा कर दी है.

मुख्य तथ्य

यह टैरिफ दौ भागों में लागू किया जाएगा. पहला 34 बिलियन डालर के 818 चीनी सामानों पर लागू होगा और दूसरी तरफ यह 16 बिलियन डालर के 284 चीनी सामानों पर लागू किया जाएगा. यह आम तौर पर उन औद्योगिक क्षेत्रों के उत्पादों पर ध्यान केंद्रित किए हुये है, जो “मेड इन चाइना 2025” औद्योगिक नीति में योगदान या लाभ प्रदान करते हैं. इसमें सूचना और संचार प्रौद्योगिकी (आईसीटी), एयरोस्पेस, रोबोटिक्स, औद्योगिक मशीनरी, नई सामग्री, और ऑटोमोबाइल जैसे उद्योग शामिल हैं. यूरोपीय संघ और कनाडा भी जुलाई 2018 से शुरू होने वाले प्रतिशोधात्मक टैरिफ लागू करने की योजना बना रहे हैं.

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories: /

Month:

Tags: , , , , ,

Advertisement