अर्थव्यवस्था करेंट अफेयर्स

गवर्नमेंट ई-मार्केटप्लेस ने सेंट्रल बैंक ऑफ़ इंडिया के साथ समझौता किया

गवर्नमेंट ई-मार्केटप्लेस ने भुगतान सम्बन्धी सेवाओं के लिए सेंट्रल बैंक ऑफ़ इंडिया के साथ साझेदारी की है। इस समझौते  के तहत सेंट्रल बैंक ऑफ़ इंडिया GeM पोर्टल पर पंजीकृत यूजर्स को GeM पूल एकाउंट्स, परफॉरमेंस  बैंक गारंटी  तथा अर्नेस्ट मनी  डिपाजिट इत्यादी से सम्बंधित सेवाएं मुहैया करवाएगा।

गवर्नमेंट ई-मार्केटप्लेस (GeM)

यह एक ऑनलाइन मार्केटप्लेस है, जहाँ पर विभिन्न सरकारी विभाग व एजेंसियां अपनी आवश्यकता की वस्तुएं व सेवाएं खरीद सकती हैं। इससे सरकारी विभागों वस्तुओं की खरीद में पारदर्शिता, कैशलेस व पेपरलेसनेस को बढ़ावा मिलेगा। इससे वस्तुओं की खरीद पर सरकारी व्यय में बचत भी होगी। इसे अगस्त, 2018 में लांच किया गया था, अब तक इस प्लेटफार्म पर मूल्य के मामले में 10,800 करोड़ रुपये तथा लेनदेन के मामले में 6.96 लाख करोड़ रुपये का आंकड़ा पार कर लिया गया है। GeM प्लेटफार्म पर 1.35 लाख विक्रेता मौजूद हैं जो 4.43 लाख वस्तुओं का विक्रय करते हैं।  इस प्लेटफार्म पर लगभग 26,500 क्रेता संगठन मौजूद हैं।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , , ,

भारत विश्व का तीसरा सबसे बड़ा स्टार्टअप हब : नैसकॉम रिपोर्ट

नैसकॉम की रिपोर्ट के मुताबिक भारत विश्व का तीसरा सबसे बड़ा (चीन और अमेरिका के बाद) स्टार्टअप इकोसिस्टम है। 2019 में भारत में 1300 से अधिक नए स्टार्टअप्स उत्पन्न हुए हैं। जनवरी से सितम्बर, 2019 के दौरान भारत में स्टार्टअप्स की संख्या 8900 से 9300 के बीच रही जबकि एक वर्ष पूर्व यह आंकड़ा 7700 से 8200 के बीच था।

मुख्य बिंदु

  • जनवरी-सितम्बर, 2019 के दौरान स्टार्टअप्स में निवेश लगभग 4.4 बिलियन डॉलर रहा।
  • 2019 में स्टार्टअप्स से 14-16 लाख अप्रत्यक्ष नौकरियों का सृजन हुआ। 2025 में यह आंकड़ा 39 से 44 लाख तक पहुँच सकता है।
  • 2025 तक भारतीय स्टार्टअप्स की संख्या में 4 से 5 गुणा होने का अनुमान है।
  • 2019 में स्टार्टअप्स से 60,000 प्रत्यक्ष नौकरियों का सृजन हुआ, 2018 में यह आंकड़ा 40,000 था।
  • 2019 में सात नए यूनिकॉर्न (1 अरब डॉलर से अधिक मूल्य के स्टार्टअप्स) सामने आये।

NASSCOM: National Association of Software & Services Companies

NASSCOM भारतीय सूचना प्रौद्योगिकी (IT) और बिजनेस प्रोसेस आउटसोर्सिंग (BPO) उद्योग का वैश्विक गैर-लाभकारी व्यापार संगठन है। यह सॉफ्टवेयर और सेवाओं में व्यापार की सुविधा प्रदान करता है और सॉफ्टवेयर प्रौद्योगिकी में शौध प्रगतियों को प्रोत्साहित करता है। यह भारतीय सोसाइटीज अधिनियम, 1860 के तहत पंजीकृत है और इसका मुख्यालय नई दिल्ली में स्थित है।

बेंगलुरू, चेन्नई, हैदराबाद, कोच्चि, कोलकाता, मुंबई, पुणे और तिरुवनंतपुरम में इसके क्षेत्रीय कार्यालय भी हैं। इस विश्व स्तरीय आईटी व्यापार निकाय में 2000 से अधिक सदस्य शामिल हैं,  इनमे 250 से अधिक कंपनियां चीन, यूरोपीय संघ, जापान, अमेरिका और ब्रिटेन की हैं। NASSCOM की सदस्य कंपनियां सॉफ्टवेयर विकास, सॉफ्टवेयर सेवाओं, सॉफ्टवेयर उत्पादों, आईटी-क्षमता / बीपीओ सेवाओं और ई-कॉमर्स के क्षेत्र में कार्यरत्त हैं।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , ,

Advertisement