पर्यावरण एवं पारिस्थिकी करेंट अफेयर्स

इंडियन ऑइल ने प्लास्टिक को बिटुमिन में परिवर्तित करने के लिए पहल लांच की

इंडियन ऑइल ने सिंगल यूज़ प्लास्टिक को समाप्त करने की सरकार की प्रतिबद्धता के लिए कई पहले लांच की है। हाल ही में महात्मा गाँधी की 150वीं जयंती के अवसर पर इंडियन ऑइल कारपोरेशन ने प्लास्टिक को बिटुमिन में परिवर्तित करने की घोषणा की। यह पहल स्वच्छ भारत अभियान का हिस्सा है।

इस बिटुमिन की आपूर्ति सड़क निर्माण के लिए की जायेगी। इस प्रोजेक्ट को सर्वप्रथम फरीदाबाद में लांच किया गया था जहाँ पर इंडियन ऑइल द्वारा बिटुमिन की सड़क बनायी गयी है। बिटुमिन से बनी इन सड़कों की मॉनिटरिंग इंडियन ऑइल अनुसन्धान व विकास द्वारा की जायेगी।

बिटुमिन क्या है?

बिटुमिन को एस्फाल्ट भी कहा जाता है, इसका उपयोग सड़क निर्माण के लिए किया जाता है। इसका निर्माण छतों को सील करने के  लिए भी किया जाता है। इसके द्वारा विभिन्न वाटर-प्रूफ उत्पादों का निर्माण किया जाता है।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , , ,

इनफ़ोसिस ने ‘क्लाइमेट न्यूट्रल नाउ’ श्रेणी में UN Global Climate Action Award जीता

भारतीय आईटी कंपनी इनफ़ोसिस ने क्लाइमेट न्यूट्रल नाउ’ श्रेणी में UN Global Climate Action Award जीता। इसकी घोषणा न्यूयॉर्क में संयुक्त राष्ट्र जलवायु शिखर सम्मेलन के बाद की गयी। यह पुरस्कार इनफ़ोसिस को दिसम्बर में चिली के सेंटिआगो में संयुक्त राष्ट्र जलवायु परिवर्तन सम्मेलन (COP25) के दौरान दिया जायेगा।

गौरतलब है कि इस वर्ष UN Global Climate Action Award के लिए 670 से अधिक आवेदन आये थे, कार्बन न्यूट्रल बनने के लिए इनफ़ोसिस की प्रतिबद्धता के कारण इनफ़ोसिस इस पुरस्कार को अपने नाम करने में कामयाब रहा। जलवायु परिवर्तन का सामना करने के लिए इनफ़ोसिस ने 2008 से ही कदम उठाने शुरू कर दिए थे।

इनफ़ोसिस

इनफ़ोसिस भारत की सबसे अग्रणी कंपनियों में से एक है। इनफ़ोसिस की स्थापना 7 जुलाई, 1981 को एन.आर. नारायण मूर्ती, नंदन नीलेकणी, एस. गोपालकृष्णन, एस. डी. शिबूलाल, के. दिनेश, एन. एस. राघवन ने की थी। इसका मुख्यालय कर्नाटक के बंगलुरु में स्थित है। इनफ़ोसिस में 2,25,000 से अधिक लोग कार्यरत्त हैं। 2017 में यह राजस्व के आधार पर भारत की दूसरी सबसे बड़ी आईटी कंपनी थी।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , , , , , , , , , ,

Advertisement