पर्यावरण एवं पारिस्थिकी करेंट अफेयर्स

राष्ट्रीय स्वच्छ गंगा मिशन ने नई दिल्ली में ‘गंगा उत्सव’ का आयोजन किया

राष्ट्रीय स्वच्छ गंगा मिशन ने नई दिल्ली में ‘गंगा उत्सव’ का आयोजन किया। इस उत्सव का आयोजन गंगा को राष्ट्रीय नदी घोषित किये जाने की 11वीं वर्षगाँठ के अवसर पर किया गया। इस उत्सव का आयोजन केन्द्रीय जल शक्ति मंत्रालय के साथ मिलकर किया गया।

गंगा उत्सव

इस इवेंट का आयोजन गंगा तथा इसकी सहायक नदियों को स्वच्छ बनाने के लिए जागरूकता फैलाने के उद्देश्य से किया गया है। इसका आयोजन प्रतिवर्ष 4 नवम्बर को किया जाता है। इसी दिन वर्ष 2008 में गंगा नदी को देश की राष्ट्रीय नदी का दर्जा दिया गया था।

इस प्रकार के इवेंट से लोगों का ध्यान आकर्षित करके गंगा को स्वच्छ करने के सन्दर्भ में जागरूकता फैलाई जाती है, गंगा को स्वच्छ करने में इस प्रकार के इवेंट्स की भूमिका काफी महत्वपूर्ण होती है। इस इवेंट के द्वारा राष्ट्रीय स्वच्छ गंगा मिशन द्वारा गंगा को स्वच्छ बनाने के लिए किये गये प्रयासों के बारे में भी बताया जाता है।

इस इवेंट में बड़ी संख्या में छात्रों ने भी हिस्सा लिया। इसमें नदी संरक्षण के तरीकों के बारे में छात्रों को अवगत करवाया गया।

Categories:

Month:

Tags: , , , , , ,

भारत, भूटान और नेपाल ने ट्रांस बॉर्डर कंज़र्वेशन पार्क की स्थापना के लिए MoU पर हस्ताक्षर किये

भारत, भूटान और नेपाल ने ट्रांस बॉर्डर कंज़र्वेशन पार्क की स्थापना के लिए MoU पर हस्ताक्षर किये। इस उद्यान में जैव-विविधता से परिपूर्ण भू-दृश्य शामिल होंगे।

महत्व

अन्य पार्क प्रजाति पर आधारित होते हैं, यह पार्क भू-दृश्य पर आधारित होगा। इस प्रकार के अन्य पार्क ‘मानस पार्क’ क्षेत्र में पहले से मौजूद है। परन्तु इस पार्क में बहुत कम क्षेत्र संरक्षित है। जबकि नए पार्क में सम्पूर्ण पार्क में संरक्षण प्रोटोकॉल लागू होगी।  यह नया पार्क मानस पार्क का विस्तार होगा। इस पहल की शुरुआत भारत द्वारा क्षेत्र में प्रवासी प्रजातियों (जैसे हाथी) को मध्यनजर रखते हुए की गयी है।

मानस राष्ट्रीय उद्यान

मानस राष्ट्रीय उद्यान यूनेस्को प्राकृतिक विश्व धरोहर स्थान है, यह एक टाइगर रिज़र्व तथा बायोस्फियर रिज़र्व है। यह उद्यान भूटान के रॉयल मानस नेशनल पार्क के समीप स्थित है। इस उद्यान में असम रूफ्ड टर्टल, गोल्डन लंगूर तथा पिग्मी हॉग जैसी विलुप्तप्राय प्रजातियाँ मौजूद है। इस उद्यान जंगली जलीय भैंसों के लिए प्रसिद्ध है। यह पार्क ब्रह्मपुत्र नदी की सहायक नदी मानस नदी के निकट स्थित है।

Categories:

Month:

Tags: , , , , , ,

Advertisement