अंतर्राष्ट्रीय करेंट अफेयर्स

अर्थशास्त्र में की गयी नोबेल पुरस्कार 2019 की घोषणा  

हाल ही में अर्थशास्त्र में नोबेल पुरस्कार 2019 की घोषणा की गयी, इस वर्ष यह प्रतिष्ठित पुरस्कार अभिजीत बनर्जी, एस्थर डफ्लो तथा माइकल क्रेमर ने जीता। अभिजीत बनर्जी भारतीय मूल के अमेरिकी अर्थशास्त्री हैं, उनकी पत्नी एस्थर डफ्लो को भी नोबेल पुरस्कार के लिए चुना गया है। उन्हें यह पुरस्कार वैश्विक निर्धनता पर उनके कार्य के लिए दिया गया है।

अभिजीत बनर्जी का जन्म 1961 में हुआ था। उन्होंने कलकत्ता विश्वविद्यालय के प्रेसीडेंसी कॉलेज तथा जवाहरलाल नेहरु विश्वविद्यालय से अपनी पढ़ाई की। बाद में उन्होंने 1988 में हार्वर्ड से पीएचडी की। एस्थर डफ्लो अभिजीत बनर्जी की पत्नी हैं। एस्थर डफ्लो और अभिजीत बनर्जी मेसाचुसेट्स इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी में कार्य करते हैं जबकि माइकल क्रेमर हार्वर्ड विश्वविद्यालय में कार्य करते हैं।

अर्थशास्त्र में नोबेल पुरस्कार विजेता को 9,18,000 अमेरिकी डॉलर, एक स्वर्ण पदक तथा एक डिप्लोमा प्रदान किया जाता है। इनामी राशि सभी विजेताओं में बराबर बांटी जायेगी।

Categories:

Month:

Tags: , , , , , , , , , ,

13 अक्टूबर : अंतर्राष्ट्रीय आपदा निम्नीकरण दिवस

13 अक्टूबर को प्रतिवर्ष अंतर्राष्ट्रीय आपदा निम्नीकरण दिवस के रूप में मनाया जाता है। इसका उद्देश्य विश्व में आपदा निम्नीकरण तथा जोखिम के प्रति जागरूकता फैलाना है। इस दिन नागरिकों तथा सरकार को आपदा के लिए मज़बूत व सुरक्षित समुदाय व राष्ट्र निर्माण के लिए प्रेरित किया जाता है। इस वर्ष अंतर्राष्ट्रीय आपदा निम्नीकरण दिवस की थीम “Reduce disaster damage to critical infrastructure and disruption of basic services” है।

पृष्ठभूमि

संयुक्त राष्ट्र महासभा ने वर्ष 1989 में अंतर्राष्ट्रीय प्राकृतिक आपदा निम्नीकरण की स्थापना की थी, इसका उद्देश्य वैश्विक स्तर पर आपदा निम्नीकरण तथा आपदाओं के बारे में जागरूकता फैलाना है। पहले इस दिवस को अक्टूबर के दूसरे बुधवार को मनाया जाता था, परन्तु 2009 में संयुक्त राष्ट्र महासभा ने इसके लिए 13 अक्टूबर को निश्चित किया और इस दिवस का नाम बदल कर अंतर्राष्ट्रीय आपदा निम्नीकरण दिवस कर दिया गया। इसके संयुक्त राष्ट्र महासभा द्वारा 64/200 प्रस्ताव पारित किया गया था।

आपदा जोखिम निम्नीकरण के लिए सेन्डाई फ्रेमवर्क (SFDRR) 2015-30

आपदा जोखिम निम्नीकरण के लिए सेन्डाई फ्रेमवर्क को संयुक्त राष्ट्र के सदस्य देशों ने मार्च, 2015 को स्वीकृति दी थी। इसे जापान के सेन्डाई में आपदा जोखिम निम्नीकरण के तीसरे वैश्विक सम्मेलन के दौरान स्वीकृति दी गयी थी। इसे स्वीकार करना संयुक्त राष्ट्र के सदस्य देशों की इच्छा पर निर्भर करता है। यह फ्रेमवर्क 2015 से 2030 की अवधि के लिए है। इस फ्रेमवर्क में स्थानीय निकायों, निजी क्षेत्र तथा अन्य स्टेकहोल्डर्स के बीच उत्तरदायित्व को साझा करने बल दिया गया है। इस फ्रेमवर्क को हयोगो फ्रेमवर्क फॉर एक्शन (2005-2015) के स्थान पर लाया गया है। आपदा जोखिम निम्नीकरण के लिए सेन्डाई फ्रेमवर्क के 7 लक्ष्य नीचे दिए गये चित्र में दर्शाए गये है :

Categories:

Month:

Tags: , , , , ,

Advertisement