अंतर्राष्ट्रीय करेंट अफेयर्स

कोरोना वायरस : अमेरिका ने आसियान के साथ सम्मेलन को स्थगित किया, जिनेवा अंतर्राष्ट्रीय मोटर शो को रद्द किया गया

COVID-19 (कोरोना वायरस), जो चीन में शुरू हुआ, अब 45 से अधिक देशों में फैल चुका है। चीन से बाहर दक्षिण कोरिया में COVID-19 से प्रभावित लोगों की संख्या सबसे ज्यादा है।

मुख्य बिंदु

29 फरवरी, 2020 को विश्व स्वास्थ्य संगठन ने COVID-19 के वैश्विक जोखिम के स्तर को बढ़ा दिया था। इसका कारण यह है कि अब यह रोग उप-सहारा अफ्रीका तक पहुँच गया है। कोरोना वायरस के कारण वित्तीय बाजारों में भी गिरावट आई है। विश्व स्वास्थ्य संगठन ने स्पष्ट किया है कि वैश्विक स्तर पर इस वायरस के लिए 20 से अधिक टीके विकसित किये जा रहे हैं।

भारत ने चीन और ईरान की यात्रा पर प्रतिबंध लगा दिया है। जबकि कई एयरलाइनों ने अपनी उड़ानों को हांगकांग और सिंगापुर के लिए सीमित कर दिया है।

अमेरिका ने आसियान शिखर सम्मेलन स्थगित किया

कोरोना वायरस के प्रकोप के कारण अमेरिका ने आसियान शिखर सम्मेलन को स्थगित कर दिया है। संयुक्त राज्य अमेरिका में कोरोना वायरस के 60 मामलों की पुष्टि की गयी  है।

जिनेवा अंतर्राष्ट्रीय मोटर शो

कोरोना वायरस की आशंका के बीच विश्व के सबसे बड़े ऑटो शो में से एक जेनेवा इंटरनेशनल मोटर शो को रद्द कर दिया गया है।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , ,

भारत, अर्मेनिया को 40 मिलियन डॉलर में करेगा राडार की आपूर्ति

1 मार्च, 2020 को भारत ने आर्मेनिया को 4 स्वदेशी निर्मित राडार (हथियारों का पता लगाने में सक्षम) की आपूर्ति करने के लिए सौदे पर हस्ताक्षर किये। यह सौदा 40 मिलियन डालर का था।

मुख्य बिंदु

भारत और अर्मेनिया ने DRDO द्वारा निर्मित “स्वाति” राडार  के लिए सौदे पर हस्ताक्षर किए। अर्मेनिया ने रूसी और पोलैंड निर्मित प्रणालियों के परीक्षण के बाद भारतीय राडार को खरीदने का फैसला किया है। आर्मेनिया का यह भी दावा है कि अन्य दो की तुलना में भारतीय निर्मित प्रणालियाँ अधिक विश्वसनीय थीं।

स्वाति राडार

यह रडार विभिन्न स्थानों पर कई हथियारों को संभालने में सक्षम है। वर्तमान में, भारतीय सेना पाकिस्तान की सेना के हमले के स्रोत का पता लगाने के लिए नियंत्रण रेखा के साथ इसी रडार का उपयोग कर रही है।

महत्व

यह सौदा भारत को 35,000 करोड़ रुपये के रक्षा निर्यात के लक्ष्य  को बहुत जल्द हासिल करने में मदद करेगा। यह भारत को अपने स्वदेशी रक्षा प्रणालियों को बेचने के लिए नए बाजार खोजने में भी मदद करेगा। रक्षा मंत्रालय अपने रक्षा उत्पादों के निर्यात के लिए मध्य पूर्व के देशों, लैटिन अमेरिकी और दक्षिण-पूर्व एशियाई देशों के साथ भी बातचीत कर रहा है।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , , ,

Advertisement