अंतर्राष्ट्रीय करेंट अफेयर्स

CAG राजीव मह्रिषी को संयुक्त राष्ट्र लेखापरीक्षक पैनल का उपाध्यक्ष नियुक्त किया गया

भारत के नियंत्रक व महालेखापरीक्षक राजीव मह्रिषी को संयुक्त राष्ट्र लेखापरीक्षक पैनल का उपाध्यक्ष नियुक्त किया गया। उनकी नियुक्ति हाल ही में न्यूयॉर्क में हुई संयुक्त राष्ट्र लेखापरीक्षक पैनल की वार्षिक बैठक में की गयी। इस बैठक में यूनाइटेड किंगडम के नियंत्रक व महालेखापरीक्षक को पुनः संयुक्त राष्ट्र लेखापरीक्षक पैनल का अध्यक्ष नियुक्त किया गया। इस बैठक में संयुक्त राष्ट्र तथा इसकी एजेंसियों में लेखापरीक्षा पर चर्चा की गयी। अगले वर्ष इस बैठक का आयोजन नवम्बर-दिसम्बर, 2019 में जर्मनी के बॉन में किया जाएगा।

संयुक्त राष्ट्र लेखापरीक्षक पैनल

इसकी स्थापना 1959 में संयुक्त राष्ट्र महासभा के प्रस्ताव 1438(XIV) द्वारा की गयी थी। इसका मुख्य उद्देश्य लेखा परीक्षा में सहयोग को बढ़ावा देना है। इसमें संयुक्त राष्ट्र लेखापरीक्षक बोर्ड तथा संयुक्त राष्ट्र की बाह्य विशेषीकृत एजेंसियों के लेखापरीक्षक शामिल हैं।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , ,

जमाल खाशोज्जी तथा अन्य पत्रकार बने टाइम पर्सन ऑफ़ द ईयर

“टाइम” पत्रिका ने हाल ही में सऊदी अरब के पत्रकार जमाल खाशोज्जी तथा अन्य पत्रकारों को “टाइम पर्सन ऑफ़ द ईयर” घोषित किया। खाशोज्जी के साथ टाइम पर्सन ऑफ़ ईयर में मारिया रेसा, वू लोन, क्याव सो ओऊ, तथा कैपिटोल गज़ट के स्टाफ को शामिल किया गया है।

“पर्सन ऑफ़ द ईयर” ख़िताब टाइम नामक पत्रिका द्वारा किसी प्रभावशाली व्यक्ति अथवा संगठन को प्रदान किया जाता है।

पृष्ठभूमि

सऊदी अरब ने 2 अक्टूबर, 2018 से लापता पत्रकार जमाल खाशोज्जी की हत्या की पुष्टि की थी। उनकी हत्या तुर्की के इस्तांबुल में सऊदी अरब के दूतावास में की गयी। दरअसल खाशोज्जी 2 अक्टूबर, 2018 को इस्तांबुल (तुर्की) में सऊदी अरब के दूतावास गए थे, परन्तु  उसके बाद वे उस भवन से बाहर नहीं आये। तुर्की की पुलिस द्वारा उनकी हत्या की आशंका जताई गयी है। खाशोज्जी के मुद्दे पर अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर काफी विवाद चल रहा था।

जमाल खाशोज्जी सऊदी अरब में पत्रकारिता का कार्य करते थे, वे अल-अरब न्यूज़ चैनल के एडिटर-इन-चीफ तथा अल वतन अख़बार के एडिटर के रूप में कार्य कर चुके हैं। उन्होंने सऊदी अरब की सरकार की आलोचना करते हुए कई लेख लिखे। वे सऊदी अरब के राजकुमार मोहम्मद बिन सलमान तथा देश के शासक किंग सलमान के आलोचक थे। उन्होंने यमन में सऊदी अरब के हस्तक्षेप का भी विरोध किया था।

जमाल खाशोज्जी

जमाल खाशोज्जी का जन्म 13 अक्टूबर, 1958 को सऊदी अरब के मदीना में हुआ था। वे एक स्तंभकार, पत्रकार व लेखक हैं। उन्होंने अल-अरब न्यूज़ चंनल तथा अल वतन अखबार में कार्य किया है। खाशोज्जी ने सितम्बर, 2017 में सऊदी अरब को छोड़ा था।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , , , ,

Advertisement