राष्ट्रीय करेंट अफेयर्स

NDRF का 15वां स्थापना दिवस मनाया गया

नई दिल्ली में हाल ही में NDRF का 15वां स्थापना दिवस मनाया गया, इस दिवस पर उत्कृष्ट कार्य करने वाले NDRF जवानों को सम्मानित किया गया। NDRF की स्थापना वर्ष 2006 में की गयी थी, अब तक NDRF ने एक लाख से अधिक लोगों के जीवन की रक्षा की है, जबकि सात लोगों को सुरक्षित घर पहुँचाया है। अब तक NDRF ने लगभग 3000 ऑपरेशन किये हैं।

राष्ट्रीय आपदा अनुक्रिया बल (NDRF)

NDRF आपदा के समय त्वरित क्रिया करने वाला बल है, इसकी स्थापना वर्ष 2006 में आपदा प्रबंधन अधिनियम, 2005 के अंतर्गत की गयी थी। NDRF का मुख्यालय नई दिल्ली में स्थित है। यह केन्द्रीय गृह मंत्रालय के अंतर्गत कार्य करता है। NDRF के लिए नीति, योजना तथा दिशानिर्देश का निर्माण राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (NDMA) द्वारा किया जाता है।

NDRF प्राकृतिक आपदा, मानव निर्मित आपदा, दुर्घटना अथवा आपातकाल के दौरान राहत व बचाव कार्य करता है। इस दौरान जान-माल की रक्षा के लिए NDRF स्थानीय एजेंसियों के साथ मिलकर कार्य करता है। वर्तमान में NDRF की 12 बटालियन देश के अलग-अलग हिस्सों में नियुक्त की गयी हैं।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , ,

राष्ट्रीय ट्यूबरक्लोसिस समाप्ति कार्यक्रम

17 जनवरी, 2020 को भारत सरकार ने राष्ट्रीय टीबी नियंत्रण कार्यक्रम का नाम बदलकर राष्ट्रीय ट्यूबरक्लोसिस समाप्ति कार्यक्रम कर दिया है। इसके अलावा विश्व स्वास्थ्य संगठन ने भारतीय वैज्ञानिकों द्वारा विकसित तकनीक TrueNat MTB का अनुमोदन किया है, इसके द्वारा टीबी का पता लगाया जा सकता है।

मुख्य बिंदु

भारत ने 2025 तक देश से टीबी को समाप्त करने का लक्ष्य रखा है। यह लक्ष्य संयुक्त राष्ट्र के सतत विकास लक्ष्य से पांच वर्ष पहले निर्धारित किया गया है। विश्व स्वास्थ्य संगठन ने भारतीय वैज्ञानिकों द्वारा विकसित तकनीक TrueNat MTB की सटीकता को स्वीकार किया है। इससे टीबी को समाप्त करने में काफी सहायता होगी।

TrueNat MTB

TrueNat MTB एक नया मॉलिक्यूलर टेस्ट है, इसके द्वारा एक घंटे के भीतर ट्यूबरक्लोसिस का पता लगाया जा सकता है। इस टेस्ट में बैक्टीरिया का पता लगाने के लिए पालीमीरेज़ चैन रिएक्शन का इस्तेमाल किया जाता है। जिस डिवाइस के द्वारा यह टेस्ट किया जाता है, उसमे बैटरी का उपयोग किया जाता है।

शुरू में TrueNat MTB किट सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों पर उपलब्ध होगी। बाद में यह किट प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों पर भी उपलब्ध होगी। देश भर में 5500 से 6000 प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र हैं।

कुष्ठरोग और पोलियो

इससे पहले कुष्ठरोग और पोलियो कार्यक्रमों का नाम परिवर्तन भी किया गया था। 1983 में राष्ट्रीय कुष्ठरोग नियंत्रण कार्यक्रम का नाम बदलकर राष्ट्रीय कुष्ठरोग समाप्ति कार्य्रकम कर दिया गया था। जबकि राष्ट्रीय पोलियो मायलाइटिस  नियंत्रण कार्यक्रम का नाम बदलकर पोलियो सम्पति कार्यक्रम कर दिया गया था।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , ,

Advertisement