राष्ट्रीय करेंट अफेयर्स

विंग्ड रेडर : भारतीय सेना ने किया हवाई अभ्यास का आयोजन

भारतीय सेना ने हाल ही में विंग्ड रेडर (Winged Raider) नामक अभ्यास का आयोजन किया, इस अभ्यास में 500 से अधिक सैनिकों ने हिस्सा लिया। इस अभ्यास का आयोजन उत्तर-पूर्वी युद्ध क्षेत्र में किया गया।

मुख्य बिंदु

इस अभ्यास का आयोजन पैराट्रूपर और हवाई योद्धाओं की तैयारी का प्रदर्शन करने के लिए किया गया। इस अभ्यास में C-130 हर्कुलस, ध्रुव हेलीकाप्टर और C-17 ग्लोब मास्टर परिवहन विमान का उपयोग किया गया।

इस अभ्यास में सीमा क्षेत्र में चीन का सामना करने पर फोकस किया गया। इसमें कुछ के एडवांस्ड हथियारों को पूर्वी क्षेत्र में पहुंचाने पर भी बल दिया गया।

महत्व

भारतीय सेना चीन द्वारा प्रस्तुत खतरे से निपटने के लिए तैयारी कर रही है। इसके अलावा भारत पूर्वी सीमाओं पर अधोसंरचना के विकास पर भी काफी कार्य कर रहा है। इस प्रकार के अभ्यास से भारतीय सेना को अपनी तैयारी का मूल्यांकन करने में सहायता होगी।

हिमविजय अभ्यास

अक्टूबर, 2019 में अरुणाचल प्रदेश में हिमविजय अभ्यास का आयोजन किया गया था। इस युद्ध अभ्यास में ‘इंटीग्रेटेड बैटल ग्रुप्स’ ने हिस्सा लिया। इसमें नव गठित ’17 माउंटेन स्ट्राइक कोर’ के कौशल का परीक्षण किया गया। इस अभ्यास में भारतीय वायुसेना ने भी हिस्सा लिया। इस अभ्यास में C130J सुपर हर्कुलस, AN32 तथा C17 का उपयोग भी किया गया था।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , , , ,

सरदार पटेल राष्ट्रीय एकता पुरस्कार 2020 के लिए नामांकन प्रक्रिया शुरू

सरदार पटेल राष्ट्रीय एकता पुरस्कार 2020 के लिए नामांकन प्रक्रिया शुरू हो गयी है। इस पुरस्कार के लिए 30 अप्रैल, 2020 तक नामांकन किया जा सकता है। यह नामांकन ऑनलाइन https://nationalunityawards.mha.gov.in वेबसाइट पर किया जा सकता है।

केंद्र सरकार ने सरदार वल्लभभाई पटेल के नाम पर पर राष्ट्रीय एकता के लिए सर्वोच्च नागरिक सम्मान की स्थापना की है। यह पुरस्कार देश की एकता व अखंडता को बढ़ावा देने के लिए दिया जायेगा। इस पुरस्कार की घोषणा 31 अक्टूबर को राष्ट्रीय एकता दिवस (सरदार पटेल की जयंती) के अवसर पर की जायेगी।

राष्ट्रीय एकता व अखंडता  के लिए सरदार पटेल पुरस्कार

यह पुरस्कार राष्ट्रीय एकीकरण के लिए योगदान देने वाले लोगों को प्रदान किया जायेगा। देश के पहले गृह मंत्री सरदार वल्लभभाई पटेल ने अपना पूर्ण जीवन देश के एकीकरण में समर्पित कर दिया था। उनके प्रयासों के उपरांत  ही भारत का वर्तमान स्वरुप संभव हो सका है। उनके नाम पर राष्ट्रीय एकीकरण पुरस्कार रखना उनके प्रति देश की ओर से एक श्रद्धांजली है, इससे लोगों को भारत की एकता को बनाये  रखने के लिए प्रेरणा मिलेगी।

सरदार वल्लभ भाई पटेल

सरदार वल्लभ भाई पटेल का जन्म 31 अक्टूबर, 1875 को हुआ था, वे भारत के पहले उप-प्रधानमंत्री तथा गृहमंत्री थे। वे एक महान स्वतंत्रता सेनानी थे। स्वतंत्रता के बाद देशी रियासतों के एकीकरण में उनकी भूमिका अत्यंत महत्वपूर्ण थी। हैदराबाद को भारत में शामिल करने में उनकी भूमिका काफी अहम थी। वे 15 अगस्त, 1947 से लेकर 15 दिसम्बर, 1950 तक देश के पहले गृह मंत्री तथा उप-प्रधानमंत्री रहे। उनकी मृत्यु 15 दिसम्बर, 1950 को हुई थी।

 

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , ,

Advertisement