राष्ट्रीय करेंट अफेयर्स

केंद्र सरकार ने लांच की अनरिजर्व्ड मोबाइल टिकटिंग सुविधा

केन्द्रीय रेलवे मंत्रालय ने हाल ही में अनरिजर्व्ड मोबाइल टिकटिंग सुविधा (UTS on Mobile) को लांच किया, इसकी सहायता से अनारक्षित टिकट, सीजन टिकट तथा प्लेटफार्म टिकट की बुकिंग की जा सकती है। अब यात्रियों को टिकट लेने के लिए लम्बी कतारों में खड़ा रहने की आवश्यकता नहीं होगी।
UTS ऑन मोबाइल की सहायता से तीन “C” को बढ़ावा दिया जायेगा – कैशलेस लेनदेन (डिजिटल पेमेंट), कांटेक्ट लेस टिकटिंग (टिकट खरीदने के लिए भौतिक रूप से विक्रय स्थान पर जाने की आवश्यकता नहीं) तथा कस्टमर एक्सपीरियंस (यात्री सुविधा)।

अनरिजर्व्ड मोबाइल टिकटिंग सुविधा

इस सुविधा का लाभ “UTSONMOBILE” एप्प के द्वारा उठाया जा सकता है, यह एप्प एंड्राइड, iOS तथा विंडोज स्टोर पर उपलब्ध है। उपभोक्ता को इस मोबाइल एप्प को डाउनलोड करके एप्प पर पंजीकरण करवाना होगा। पंजीकरण के बाद उपभोक्ता को यूजर-आईडी तथा पासवर्ड दिया जायेगा, इसके द्वारा यूजर लॉग इन कर सकता है। इस एप्प पर आर-वॉलेट, डेबिट कार्ड, क्रेडिट कार्ड, नेटबैंकिंग, UPI तथा अन्य ई-वॉलेट के द्वारा भुगतान किया जा सकता है। इस एप्प के द्वारा टिकट बुकिंग की प्रक्रिया निर्बाध होकर चलती रहेगी। अब यात्रियों को टिकट लेने के लिए लम्बी कतारों में इंतज़ार नहीं करना पड़ेगा।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , ,

डीकमीशन किये गये एयरक्राफ्ट कैरियर आईएनएस विराट को महाराष्ट्र सरकार तैरते हुए संग्राहलय के रूप में परिवर्तित करेगी

महाराष्ट्र राज्य कैबिनेट ने हाल ही में भारतीय नौसेना के सबसे लम्बे समय तक सेवाएं देने वाले एयरक्राफ्ट कैरिएर आईएनएस विराट को तैरते हुए संग्रहालय में परिवर्तित करने का फैसला लिया है। वर्तमान में आईएनएस विराट को मुंबई के नौसैनिक डॉकयार्ड पर रखा गया है। आईएनएस विराट को 2017 में डीकमीशन (सेवानिवृत्त) किया गया था।

मुख्य बिंदु

महाराष्ट्र सरकार की योजना के अनुसार आईएनएस विराट को पब्लिक-प्राइवेट पार्टनरशिप के तहत परिवर्तित किया जायेगा। इस एयरक्राफ्ट कैरिएर को सिंधुदुर्ग जिले में मालवण तट के निकट स्थापित किया जायेगा। इसमें जैव विविधता केंद्र तथा समुद्री एडवेंचर केंद्र की स्थापना की जाएगी। इस एयरक्राफ्ट कैरिएर में वर्चुअल गैलरी, कैफेटेरिया तथा मर्चेंट नेवी क्रू के लिए प्रशिक्षण केंद्र की स्थापना की जाएगी। विश्व भर में केवल 7 एयरक्राफ्ट कैरिएर को संग्रहालय, थीम पार्क तथा लक्ज़री होटल में परिवर्तित किया गया है।

आईएनएस विराट

आईएनएस विराट का निर्माण 1943 में द्वितीय विश्वयुद्ध के दौरान किया गया था, इसे पहली बार HMS हेर्मेस के रूप में ब्रिटिश रॉयल नेवी में नवम्बर, 1959 में कमीशन किया गया था। इसने 1982 में फ़ॉकलैंड युद्ध में हिस्सा लिया था। ब्रिटिश नौसेना ने 1985 में इसे 27 वर्षों के बाद इसे सेवानिवृत्त किया था। बाद में यह भारतीय 30 वर्षों तक भारतीय नौसेना में कार्यरत्त रहा। आईएनएस विराट को 12 मई, 1987 में भारतीय नौसेना में कमीशन किया गया था।
आईएनएस विराट ने 1989 में श्रीलंका में शांति अभियान “ऑपरेशन जुपिटर” में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी। इसने 2001-02 में “ऑपरेशन पराक्रम” हिस्सा लिया था। आईएनएस विराट के नाम विश्व भर में सबसे लम्बे समय तक कार्य करने का रिकॉर्ड है।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , ,

Advertisement