व्यक्तिविशेष करेंट अफेयर्स

नेपाल के कामी रीता ने रिकॉर्ड 23वीं बार माउंट एवेरेस्ट पर सफलतापूर्वक चढ़ाई की

49 वर्षीय नेपाली शेरपा कामी रीता ने रिकॉर्ड 23वां माउंट एवेरेस्ट की चढ़ाई करते हुए अपने ही रिकॉर्ड को तोड़ दिया। वे 23वीं बार विश्व के सबसे ऊँचे पर्वत के शिखर पर पहुंचे।

कामी रीता शेरपा

कामी रीता शेरपा नेपाल के सोलुखुम्बू जिले के थामे गाँव के निवासी हैं। उन्होंने नेपाल की तरफ से माउंट एवेरेस्ट पर चढ़ाई की। रीता ने 1994 में माउंट एवेरेस्ट पर चढ़ाई का कार्य शुरू किया था। 2017 में कामी रीता माउंट एवेरेस्ट पर 21वीं बार सफलतापूर्वक चढ़ाई करने वाले तीसरे व्यक्ति बने थे, इसके साथ उन्होंने फुरबा ताशी शेरपा तथा अपा शेरपा के रिकॉर्ड के बराबरी कर ली थी। 2018 में उन्होंने 22वीं बार माउंट एवेरेस्ट पर सफलतापूर्वक चढ़ाई की और सबसे अधिक बार माउंट एवेरेस्ट पर सफलतापूर्वक चढ़ाई करने का रिकॉर्ड बनाया।

शेरपा

शेरपा हिमालय तथा नेपाल में निवास करने वाला एक समूह है। शेरपा का शाब्दिक अर्थ “पूर्व के लोग” है। आरम्भ इस शब्द को उपयोग पूर्वी तिब्बत से नेपाल में प्रवास करने वाले लोगों के लिए किया जाता था।

Categories:

Month:

Tags: , , , , ,

आरोही पंडित लाइट स्पोर्ट्स एयरक्राफ्ट के द्वारा अकेले अटलांटिक महासागर को पार करने वाली पहली महिला बनीं

भारत की महिला कैप्टेन आरोही पंडित “माही” नामक लाइट स्पोर्ट्स एयरक्राफ्ट के द्वारा अकेले अटलांटिक महासागर को पार करने वाली पहली महिला बनीं।

मुख्य बिंदु

आरोही पंडित 23 वर्षीय कमर्शियल पायलट हैं, वे महाराष्ट्र के मुंबई से हैं। वे लाइट स्पोर्ट्स एयरक्राफ्ट (LSA) लाइसेंस होल्डर हैं। उनकी यह उपलब्धि “Women Empower (WE) Expedition” का हिस्सा है। उन्होंने इस अभियान को अपनी मित्र कैप्टेन कीथहेयर मिसक्विता के साथ मिलकर पिछले वर्ष जुलाई में लांच किया था, उन दोनों की यात्रा अगस्त, 2018 में शुरू हुई थी। वे इस वर्ष 30 जुलाई तक विश्व की परिक्रमा पूरी करके भारत में पहुँच जाएँगी। इस अभियान को “सोशल एक्सेस” नामक गैर-लाभकारी कम्युनिकेशन फर्म ने आयोजित व प्रायोजित किया है।

इस अभियान के दौरान आरोही पंडित और कीथहेयर मिसक्विता ने राजस्थान, गुजरात तथा पंजाब से होकर उड़ान भरी। इसके बाद वे पाकिस्तान, ईरान, तुर्की, सर्बिया, स्लोवेनिया, जर्मनी, फ्रांस तथा यूनाइटेड किंगडम से होकर गुजरी हैं। इस यात्रा के दौरान वे दुर्गम ग्रीनलैंड को लाइट स्पोर्ट्स एयरक्राफ्ट में पार करने वाली पहली महिला पायलट बनीं। उनकी यात्रा संभवतः 30 जुलाई, 2019 को भारत में समाप्त होगी, इस पूरी यात्रा की दूरी लगभग 37,000 किलोमीटर होगी।

“माही”

  • यह एक छोटा “साइनस 912” सिंगल इंजन वाला अल्ट्रालाइट मोटर ग्लाइडर है।
  • इसका भार लगभग 400 किलोग्राम है।
  • इसका निर्माण स्लोवेनिया में पिपिस्त्रेल द्वारा किया गया है।
  • यह भारत में नागरिक विमानन महानिदेशालय द्वारा पंजीकृत किया जाने वाला पहला लाइट स्पोर्ट्स एयरक्राफ्ट है।

Categories:

Month:

Tags: , , , , , , ,

Advertisement