स्थानविशेष करेंट अफेयर्स

दिल्ली के फिरोजशाह कोटला स्टेडियम का नाम बदलकर अरुण जेटली स्टेडियम किया जायेगा

दिल्ली के मशहूर क्रिकेट स्टेडियम फिरोजशाह कोटला स्टेडियम का नाम बदलकर अब अरुण जेटली स्टेडियम किया जायेगा, यह निर्णय हाल ही में दिल्ली व डिस्ट्रिक्ट क्रिकेट एसोसिएशन (DDCA) द्वारा लिया गया है। इसके लिए 12 सितम्बर को एक कार्यक्रम का आयोजन भी किया जायेगा। इस स्टेडियम के एक स्टैंड का नाम भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली के नाम पर रखा जायेगा। गौरतलब है कि अरुण जेटली दिल्ली व डिस्ट्रिक्ट क्रिकेट एसोसिएशन (DDCA) के अध्यक्ष भी रहे हैं। अरुण जेटली का निधन 24 अगस्त को हुआ था।

अरुण जेटली

अरुण जेटली का जन्म 28 दिसम्बर, 1952 को दिल्ली में हुआ था। वे भारतीय जनता पार्टी से जुड़े हुए थे, रानजीति के अतिरिक्त वे सर्वोच्च न्यायालय में वरिष्ठ अधिवक्ता भी थे। वे 13 अक्टूबर, 1999 से 30 सितम्बर, 2000 तक राज्य सूचना व प्रसारण मंत्री रहे। 29 जुलाई, 2003 से 22 मई, 2004 के बीच वे विधि व न्याय मंत्री रहे। 9 नवम्बर, 2014 से 5 जुलाई, 2016 के बीच वे केन्द्रीय सूचना व प्रसारण मंत्री रहे। 13 मार्च, 2017 से 3 सितम्बर, 2017 के बीच वे देश के रक्षामंत्री रहे। 26 मई, 2014 से 30 मई, 2019 के बीच वे देश के वित्त मंत्री रहे।

Categories:

Month:

Tags: , , , , , , , ,

विशाखापट्नम और विजयवाड़ा के बीच दौड़ेगी दूसरी उदय एक्सप्रेस

भारतीय रेल की दूसरी उदय (उत्कृष्ट डबल डेकर एयर कंडिशन्ड यात्री) एक्सप्रेस विशाखापट्नम और विजयवाड़ा के बीच दौड़ेगी। पहली उदय एक्सप्रेस कोइम्बतूर तथा बेंगलुरु के बीच जून 2018 में शुरू की गयी थी। इसके अलावा बंगलुरु तथा चेन्नई सेंट्रल के बीच भी एक उदय एक्सप्रेस चलाने की योजना है।

उदय एक्सप्रेस

यह एक विशेष रूप से डिजाईन की गयी डबल डेकर एयर कंडिशन्ड ट्रेन है। इस ट्रेन में वाई-फाई की सुविधा तथा आरामदायक सीटें तथा डिस्प्ले स्क्रीन लगई हुई हैं।

दूसरी उदय एक्सप्रेस

इस ट्रेन में 9 डबल डेकर कोच तथा 2 पॉवर कार्स होंगी। इस ट्रेन में आटोमेटिक भोजन व पेय वेंडिंग मशीन, स्मोक डिटेक्शन अलार्म सिस्टम, मोड्यूलर बायो-टॉयलेट्स जैसी सुविधाएं हैं। इस ट्रेन के उप्पर डेक में 50 यात्री तथा लोअर डेक पर 48 यात्री सफर कर सकते हैं। इस ट्रेन की तीन कोच में डाइनिंग सुविधा हैं। इसमें 104 यात्री बैठक सकते हैं। जबकि 5 कोच में डाइनिंग की सुविधा नही है, इसमें 120 यात्री सफ़र कर सकते  हैं।

यह ट्रेन विशाखापट्नम से सुबह 5:45 पर रवाना होगी, यह विजयवाड़ा में 11:15 पर पहुंचेगी। वापसी पर यह ट्रेन विजयवाडा से शाम को 5:50 पर रवाना होगी तथा विशाखापट्नम में 10:55 पर पहुंचेगी। यह ट्रेन दुव्वुडा, अनकपल्ले, तुनि, समरलकोटा, राजामहेंद्रवरम तथा एलुरु से होकर गुजरेगी।

Categories:

Month:

Tags: , , , , ,

Advertisement