विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी करेंट अफेयर्स

इसरो और DRDO ने मानव अन्तरिक्ष मिशन के लिए समझौतों पर हस्ताक्षर किये

भारतीय अन्तरिक्ष अनुसन्धान संगठन (ISRO) और रक्षा अनुसन्धान व विकास संगठन (DRDO) मानव अन्तरिक्ष उड़ान के लिए ‘ह्युमन सेंट्रिक सिस्टम्स’ के विकास के लिए समझौतों पर हस्ताक्षर किये। इसरो ने 2022 तक भारत की स्वतंत्रता की 75वीं वर्षगाँठ के अवसर पर देश की मानवीय अन्तरिक्ष उड़ान की क्षमता प्रदर्शित करने का लक्ष्य रखा है।

मुख्य बिंदु

इसरो के वैज्ञानिकों के प्रतिनिधिमंडल तथा DRDO लैब्स के बीच मानवीय अन्तरिक्ष उड़ान के लिए कई समझौतों पर हस्ताक्षर किये हैं। DRDO द्वारा अन्तरिक्ष भोजन, स्पेस क्रू के स्वास्थ्य की मॉनिटरिंग, आपातकालीन किट, क्रू मोड्यूल की सफल रिकवरी के लिए पैराशूट, रेडिएशन मापन तथा सुरक्षा इत्यादि के लिए किट्स इसरो को उपलब्ध करवाई जायेंगी। यह समझौते निम्नलिखित संगठनों के निर्देशकों द्वारा किये गये :

  • एरियल डिलीवरी रिसर्च एंड डेवलपमेंट एस्टाब्लिशेमेंट (ADRDE)
  • डिफेन्स फ़ूड रिसर्च लेबोरेटरी (DFRL)
  • डिफेन्स बायो-इंजीनियरिंग एंड इलेक्ट्रो मेडिकल लेबोरेटरी (DEBEL)
  • डिफेन्स लेबोरेटरी (DL) जोधपुर
  • सेंटर फॉर फायर, एक्स्प्लोसिव्स एंड एनवायरनमेंट सेफ्टी (CFEES)
  • डिफेन्स इंस्टिट्यूट ऑफ़ फिजियोलॉजी एंड अलाइड साइंसेज (DIPAS)
  • इंस्टिट्यूट ऑफ़ न्यूक्लियर मेडिसिन एंड अलाइड साइंसेज (INMAS)

 

Categories:

Month:

Tags: , , , ,

CROSPC ने ‘मिड मानसून-2019 लाइटनिंग’ नामक रिपोर्ट जारी की

हाल ही में Climate Resilient Observing Systems Promotion Council (CROSPC) ने ‘मिड मानसून-2019 लाइटनिंग’ नामक रिपोर्ट जारी की है। Climate Resilient Observing Systems Promotion Council (CROSPC) भारतीय मौसम विज्ञान विभाग की एक अनुसन्धान संस्था है। इस रिपोर्ट में आसमानी बिजली की घटनाओं को कवर किया गया है, यह भारत में इस प्रकार की पहली रिपोर्ट है। इस रिपोर्ट के मुताबिक अप्रैल से जुलाई के बीच देश में ओडिशा में सर्वाधिक आसमानी बिजली गिरने की घटनाएं सामने आई हैं। इस रिपोर्ट में महाराष्ट्र दूसरे स्थान पर जबकि कर्नाटक तीसरे स्थान पर है। आसमानी बिजली गिरने के कारण देश में कुल 1,311 मौते हुई हैं, इसमें उत्तर प्रदेश में सर्वाधिक 224 मौतें हुई हैं।

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग

पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय के अंतर्गत भारत सरकार के मौसम विज्ञान प्रक्षेण, मौसम पूर्वानुमान और भूकम्प विज्ञान का कार्यभार सँभालने वाली भारतीय मौसम विज्ञान विभाग एक सरकारी एजेंसी है। इसका मुख्यालय नई दिल्ली में स्थित है। भारत से लेकर अंटार्कटिका भर में सैकड़ों प्रक्षेण स्टेशन भारतीय मौसम विज्ञान विभाग के द्वारा वर्त्तमान में चलाये जाते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , ,

Advertisement