विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी करेंट अफेयर्स

RalDer-X : डीआरडीओ और आईआईएससी बैंगलोर ने विकसित की विस्फोटक डिटेक्शन डिवाइस

1 मार्च, 2020 को नेशनल वर्कशॉप ऑन एक्सप्लोसिव डिटेक्शन में, RalDer-X नामक एक नई विस्फोटक डिटेक्शन डिवाइस लॉन्च की गयी।

मुख्य बिंदु

राल्डर-एक्स में विस्फोटकों का पता लगाने की क्षमता है जो शुद्ध रूप में हैं और वे जो दूषित पदार्थों के साथ जोड़े जाते हैं। यह कुछ ही दूरी पर विस्फोटक का पता लगाने में भी सक्षम है। यह डिवाइस नशीले पदार्थों और अन्य तत्वों का पता लगाने में सक्षम है जो गैर-विस्फोटक प्रकृति के हैं।

महत्व

विस्फोटक डिटेक्शन का निरीक्षण करना बहुत महत्वपूर्ण है, विशेष रूप से बंदरगाहों, हवाई अड्डों और सीमाओं पर। विस्फोटक पहचान की दो मुख्य श्रेणियां हैं – बल्क डिटेक्शन और ट्रेस डिटेक्शन। दोनों प्रकार के विस्फोटकों का पता लगाने में कोलोरीमैट्रिक्स सिद्धांत का उपयोग किया जाता है।

कोलोरीमैट्रिक्स

यह परीक्षण विस्फोटक में नाइट्रोजन यौगिक का पता लगाने के साथ उसके रंग परिवर्तन पर आधारित है। ऐसा इसलिए है, क्योंकि लगभग सभी विस्फोटक नाइट्रोक्रोमैटिक, नाइट्रामाइन या नाइट्रेट आधारित यौगिकों से बने होते हैं।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , ,

अप्रैल, 2020 में किया जाएगा RAISE 2020 शिखर सम्मेलन का आयोजन

भारत सरकार ने हाल ही में RAISE 2020- ‘Responsible AI for Social Empowerment 2020’ नामक शिखर सम्मेलन की घोषणा की, इस शिखर सम्मेलन का आयोजन 11-12 अप्रैल को नई दिल्ली में किया जायेगा।

RAISE 2020 उद्योग और शैक्षणिक संस्थानों की साझेदारी में सरकार द्वारा आयोजित किया जाने वाला भारत का पहला आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस शिखर सम्मेलन है। सरकार ने एआई-स्टार्टअप चैलेंज और इवेंट की वेबसाइट भी लॉन्च की है।

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (AI)

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (कृत्रिम बुद्धि) कंप्यूटर साइंस की वह शाखा है जिसके द्वारा मशीनों में इंसानों की तरह सोचने समझने की क्षमता विकसित की जाती है। AI मशीने वातावरण के अनुसार खुद को ढालने में सक्षम होती हैं।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , ,

Advertisement