करेंट अफेयर्स - अप्रैल, 2019

मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने लांच किया ‘समाधान’ चैलेंज

7 अप्रैल, 2020 को केन्द्रीय मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने देश में COVID -19 का मुकाबला करने के लिए एक “समाधान” चैलेंज शुरू किया है। इस ऑनलाइन चैलेंज को मानव संसाधन विकास मंत्रालय के इनोवेटिव सेल और AICTE (ऑल इंडिया काउंसिल फॉर टेक्निकल एजुकेशन) ने फोर्ज और इनोवेशनक्यूरीस के साथ लॉन्च किया है।

मुख्य बिंदु

“समाधान” चैलेंज का उद्देश्य छात्रों को नई खोज करने और नए प्रयोग करने के लिए प्रेरित करना और उन समाधानों के साथ आना है जो COVID-19 से लड़ने में मदद करेंगे। चुने गए समाधान सरकारी अस्पतालों, स्वास्थ्य सेवाओं और अन्य सेवाओं में लागू किए जायेंगे।

वायरस को रोकने के लिए भारत के समक्ष चुनौतियाँ

वायरस को रोकने में देशों की चुनौतियाँ एक दूसरे से भिन्न-भिन्न होती हैं। क्योंकि वायरस का प्रसार स्थलाकृति के आधार पर भिन्न होता है। इसलिए, देशों के सामने आने वाली चुनौतियां भी अलग-अलग हैं।

भारत के सामने चुनौतियां निम्नानुसार हैं  :

  • उच्च जनसंख्या घनत्व
  • ख़राब सार्वजनिक स्वच्छता। ऐसा इसलिए है क्योंकि कई लोग सड़क पर थूकते और छींकते हैं। उत्तर प्रदेश सरकार ने पान मसाला की बिक्री पर प्रतिबंध लगा दिया है।
  • वायरस की ऊष्मायन अवधि अभी तक सटीक रूप से ज्ञात नहीं है। ऊष्मायन अवधि एक व्यक्ति के संक्रमित होने और उसके लक्षण दिखने के बीच का समय अंतराल है।
  • सोशल मीडिया पर फेक न्यूज़
  • वायरस के कारण लागू किया गया लॉक डाउन अर्थव्यवस्था को बुरी तरह प्रभावित कर रहा है।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month: /

Tags: , , , , , ,

लॉक डाउन के कारण भारत में बेरोजगारी दर बढ़कर 23% हुई

सेंटर फॉर मॉनिटरिंग इंडियन इकोनॉमी (CMIE) ने हाल ही में भारत में मौजूदा बेरोजगारी की स्थिति पर एक सर्वेक्षण जारी किया। इस सर्वेक्षण के अनुसार, लॉक डाउन के बाद से 20% से अधिक लोगों ने अपनी नौकरी खो दी है।

मुख्य बिंदु

इस रिपोर्ट में कहा गया है कि मार्च के महीने में बेरोजगारी की दर फरवरी में 7.8% की तुलना में 8.7% रहने की उम्मीद है। निर्माण, खनन, विनिर्माण और सेवा क्षेत्र के लगभग 100 मिलियन कर्मचारी लॉक डाउन के कारण बेरोजगार हैं।  भारत सरकार हर साल बेरोजगारी रिपोर्ट प्रकाशित करती है और 2019 में बेरोजगारी दर 6.1% थी, जो कि भारतीय इतिहास के 45 वर्षों में सबसे अधिक थी।

CMIE

CMIE की स्थापना 1974 में की गयी थी। यह व्यापार और आर्थिक डेटाबेस का उत्पादन करता है। यह एक स्वतंत्र थिंक टैंक है। भारत के सबसे बड़े सर्वेक्षण इस केंद्र द्वारा किए जा रहे हैं। इसमें घरेलू आय,बचत और खर्च का पैटर्न शामिल है। यह थिंक टैंक सरकारों, वित्तीय बाजारों, व्यवसायों आदि को सेवाएं प्रदान करता है।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month: /

Tags: , , , ,

Advertisement