करेंट अफेयर्स - अप्रैल, 2019

बार्सिलोना ने जीता ला लीगा का खिताब

बार्सिलोना फुटबॉल क्लब ने स्पेनिश फुटबॉल लीग “ला लीगा” का खिताब जीत लिया है, यह पिछले 11 सीजन में बार्सिलोना का आठवां खिताब है। बार्सिलोना ने लेवान्ते के विरुद्ध खेले गये मैच में 1-0 से जीत प्राप्त की, इस मैच का एकमात्र गोल लिओनेल मेसी ने किया। गौरतलब है कि बार्सिलोना के तीन मैच अभी बचे हुए हैं और बार्सिलोना के एटलेटिको मेड्रिड से 9 अंक आगे है। अंक तालिका में एटलेटिको मेड्रिड दूसरे स्थान पर है। यह कुल मिलाकर बार्सिलोना का 26वां खिताब है। इसके साथ ही बार्सिलोना रियाल मेड्रिड के 33 खिताबों के रिकॉर्ड के करीब पहुँच गयी है। क्रिस्टीयानों रोनाल्डो की अनुपस्थिति में रियाल मेड्रिड को काफी संघर्ष करना पड़ा, रियाल मेड्रिड अभी अंक तालिका में तीसरे स्थान पर है। इस सीजन से  पहले क्रिस्टीयानो रोनाल्डो को छोड़कर इटली के फुटबॉल क्लब युवेंतस में चले गये थे।

बार्सिलोना फुटबॉल क्लब

बार्सिलोना फुटबॉल क्लब की स्थापना 29 नवम्बर, 1899 में की गयी थी। यह फुटबॉल क्लब स्पेन की टॉप लीग और विश्व के सबसे लोकप्रिय फुटबॉल लीग में से एक “ला लीगा” में हिस्सा लेता है। मौजूदा समय में बार्सिलोना में लिओनेल मेसी, लुईस सुआरेज़, उस्मान डेम्बेले, अर्तुरो विडाल, योर्दी अल्बा, सेमुएल उमतीती, इवान रेकीतिच, फिलिप कूतिनियो जैसे दिग्गज खिलाड़ी खेलते हैं।

ला लीगा

ला लीगा विश्व की सबसे अधिक लोकप्रिय फुटबॉल लीग में से एक है। यह फुटबॉल लीगा स्पेन में खेली जाती है। इसकी स्थापना 1929 में शुरू हुई थी। ला लीगा में सबसे अधिक खिताब रियाल मेड्रिड ने 33 बारे जीते हैं। ला लीगा में सर्वाधिक गोल करने का रिकॉर्ड लिओनेल मेसी के नाम है, मेसी अब तक 417 गोल कर चुके हैं।ला लीग में 20 टीमें हिस्सा लेती हैं, इसमें प्रमुख टीमें हैं : बार्सिलोना, रियाल मेड्रिड, एटलेटिको मेड्रिड, आइबार, एस्पान्योल, जिरोना, रियाल बेतिस, लेवान्ते, वेलेंशिया, रियाल सोसिएदाद इत्यादि।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , , ,

गगनदीप कांग को फ़ेलोशिप ऑफ़ द रॉयल सोसाइटी प्रदान की गयी

भारत की जैव वैज्ञानिक गगनदीप कांग फेलो ऑफ़ द रॉयल सोसाइटी के 359 वर्ष के इतिहास में शामिल की जाने वाली पहली भारतीय महिला बनीं। कांग को बच्चों में होने वाले संक्रमण के अनुसन्धान के लिए जाना जाता है। उन्होंने रोटावायरस तथा टाइफाइड के स्वदेशी टीके के विकास में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। गगनदीप कांग वेल्लोर के क्रिस्चियन मेडिकल कॉलेज में प्रोफेसर हैं। वे वर्तमान में फरीदाबाद में ट्रांसलेशनल हेल्थ साइंस एंड टेक्नोलॉजी इंस्टिट्यूट में कार्यकारी निदेशक के रूप में कार्य कर रहीं हैं। 2016 में उन्हें जन स्वास्थ्य के क्षेत्र में कार्य करने के लिए जीव विज्ञान में इनफ़ोसिस प्राइज से सम्मानित किया गया था।

रोटावैक

यह रोटावायरस संक्रमण के लिए विकसित भारत का पहला स्वदेशी टीका है, रोटावायरस के कारण बच्चों में डायरिया होता है। रोटावैक का विकास भारत बायोटेक लिमिटेड द्वारा किया गया है,  सीरम इंटरनेशनल रोटावायरस के लिए “रैबीशील्ड” नामक टीके के विकास किया है।

फेलो ऑफ़ द रॉयल सोसाइटी

रॉयल सोसाइटी ऑफ़ लन्दन द्वारा गणित, इंजीनियरिंग विज्ञान तथा चिकित्सा विज्ञान के क्षेत्र में महत्वपूर्ण योगदान के लिए फेलोशिप ऑफ़ द रॉयल सोसाइटी प्रदान की जाती है, यह एक प्रकार का पुरस्कार है। इसकी शुरुआत वर्ष 1663 में हुई थी। गौरतलब है कि अब तक यह फेलोशिप इसाक न्यूटन (1672), चार्ल्स डार्विन (1839), माइकल फैराडे (1824), अर्नेस्ट रदरफोर्ड (1903), श्रीनिवास रामानुजन (1918), अल्बर्ट आइंस्टीन (1921), सुब्रमन्यन चंद्रशेखर (1944), एलन टूरिंग (1951), स्टीफन हॉकिंग (1974), अजय कुमार सूद (2015), एलोन मस्क (2018) को प्रदान की जा चुकी है।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , , , , ,

Advertisement