करेंट अफेयर्स - अप्रैल, 2019

बजरंग पूनिया और विनेश फोगट का नाम राजीव गाँधी खेल रत्न पुरस्कार के लिए प्रस्तावित किया गया

भारतीय कुश्ती महासंघ ने बजरंग पूनिया और विनेश फोगट का नाम राजीव गाँधी खेल रत्न पुरस्कार के लिए प्रस्तावित किया है। उनके अलावा राहुल अवारे, हरप्रीत सिंह, दिव्या काकरण और पूजा ढान्ढा का नाम अर्जुन पुरस्कार के लिए प्रस्तावित किया गया है।

विनेश फोगट

विनेश फोगट एक महिला पहलवान हैं। उनका जन्म 25 अगस्त, 1994 को हरियाणा के भिवानी जिले में हुआ था। उन्होंने 2014 ग्लासगो राष्ट्रमंडल खेलों में स्वर्ण पदक जीता था, जबकि 2018 के गोल्ड कोस्ट राष्ट्रमंडल खेलों में उन्होंने 50 किलोग्राम भारवर्ग में स्वर्ण पदक जीता था। 2014 के इनचियोन एशियाई खेलों में उन्होंने 48 किलोग्राम भार वर्ग में कांस्य पदक जीता था। 2018 के जकार्ता एशियाई खेलों में उन्होंने 50 किलोग्राम भारवर्ग में स्वर्ण पदक जीता। वे राष्ट्रमंडल खेलों तथा एशियाई खेलों में स्वर्ण पदक जीतने वाली पहली भारतीय महिला पहलवान हैं।

बजरंग पूनिया

बजरंग पूनिया एक सुप्रसिद्ध पहलवान हैं, उनका जन्म 26 फरवरी, 1994 को हरियाणा के झज्जर में हुआ था। गौरतलब है कि हाल ही में बजरंग पूनिया 65 किलोग्राम फ्रीस्टाइल भारवर्ग में विश्व के नंबर 1 पहलवान बने हैं। वर्ष 2013 में उन्होंने एशियाई कुश्ती चैंपियनशिप में कांस्य पदक जीता, तत्पश्चात इसी वर्ष उन्होंने विश्व कुश्ती चैंपियनशिप में कांस्य पदक जीता था। वर्ष 2014 में स्कॉटलैंड के ग्लासगो में आयोजित राष्ट्रमंडल खेलों में उन्होंने रजत पदक जीता। 2014 में एशियाई खेलों में उन्होंने  पुनः रजत पदक जीता। 2014 एशियाई कुश्ती प्रतियोगिता में बजरंग पूनिया ने रजत पदक जीता। एशियाई कुश्ती प्रतियोगिता 2017 में बजरंग पूनिया ने स्वर्ण पदक जीता। वर्ष 2018 में राष्ट्रमंडल खेलों में बजरंग पूनिया ने ऑस्ट्रेलिया के गोल्ड कोस्ट में स्वर्ण पदक जीता। इसके अतिरिक्त 2018 एशियाई खेलों में बजरंग पूनिया ने 65 किलोग्राम भार वर्ग में स्वर्ण पदक जीता।

Categories:

Month:

Tags: , , , , , , , ,

श्रीलंका के राष्ट्रपति ने बुर्का तथा चेहरे को ढकने वाले अन्य वस्त्रों पर प्रतिबन्ध लगाया

श्रीलंका के राष्ट्रपति मैत्रिपाला सिरिसेना ने  अपनी आपातकालीन शक्तियों का उपयोग करते हुए बुर्का तथा चेहरे को ढकने के लिए उपयोग किये जाने वाले अन्य वस्त्रों पर सार्वजनिक स्थानों पर प्रतिबन्ध लगाने का आदेश जारी किया है।

मुख्य बिंदु

आदेश में कहा गया है कि किसी भी प्रकार का वस्त्र जिससे चेहरे पर रखने से उस व्यक्ति की पहचान छुप जाती है, उस पर तुरंत प्रभाव से प्रतिबन्ध लगा दिया गया है। यह राष्ट्रीय सुरक्षा की दृष्टि से लागू किया गया है।

कारण

श्रीलंका में कुछ समय पहले बम धमाके हुए थे, जिसमे 250 से अधिक लोगों की मृत्यु हुई। यह धमाके गिरिजाघरों तथा होटलों में किये गये थे।

श्रीलंका की धार्मिक सांख्यिकी

श्रीलंका की कुल जनसँख्या 21 मिलियन है। 2012 की जनसँख्या में 70% बौद्ध, 12.6% हिन्दू, 9.7 मुस्लिम तथा 7.6% है। सबसे अधिक सिंहली बौद्ध हैं, अधिकतर तमिल हिन्दू हैं, मूर तथा मलय अधिकतर मुस्लिम हैं।

Categories:

Month:

Tags: , ,

Advertisement