करेंट अफेयर्स– दिसंबर, 2018

भारत ग्रीन हाउस गैस इन्वेंटरी पर UNFCC को दूसरी द्विवार्षिक रिपोर्ट सौंपेगा

भारत संयुक्त राष्ट्र जलवायु परिवर्तन फ्रेमवर्क को अपनी दूसरी द्विवार्षिक रिपोर्ट सौंपने जा रहा है। इस रिपोर्ट में राष्ट्रीय ग्रीन हाउस गैस इन्वेंटरी तथा ग्रीन हाउस गैस उत्सर्जन को कम करने के लिए उठाये गये क़दमों का वर्णन किया गया है।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में केन्द्रीय कैबिनेट ने द्वितीय द्विवार्षिक अपडेट रिपोर्ट को संयुक्त राष्ट्र जलवायु परिवर्तन फ्रेमवर्क को सौंपने को मंज़ूरी दे दी है।

भारत का ग्रीन हाउस गैस उत्सर्जन

द्विवार्षिक रिपोर्ट के पांच प्रमुख घटक होते हैं: राष्ट्रीय परिस्थितियां, राष्ट्रीय ग्रीन हाउस गैस इन्वेंटरी, कम करने के लिए प्रयास, वित्त, तकनीक तथा क्षमता निर्माण आवश्यकता तथा प्राप्त सहायता व घरेलु मोनिटरिंग, रिपोर्टिंग व प्रमाणीकरण।

  • भारत में 2014 में 26,07,488 गीगाग्राम (2.607 अरब टन CO2) ग्रीन हाउस गैसों का उत्सर्जन किया गया।
  • भारत का राष्ट्रीय शुद्ध ग्रीन हाउस उत्सर्जन 23,06,295 गीगा ग्राम अथवा 2.306 अरब तन कार्बन डाइऑक्साइड था।
  • कुल उत्सर्जन में उर्जा सेक्टर का योगदान 73%, औद्यौगिक प्रक्रियाओं तथा उत्पाद उपयोग का योगदान 8%, कृषि क्षेत्र का योगदान 16% तथा कचरा क्षेत्र का योगदान 3% था।

पेरिस जलवायु समझौते के तहत भारत की प्रतिबद्धता

  • भारत ने 2030 तक ग्रीन हाउस गैस उत्सर्जन को 2005 के स्तर तक पहुंचाने का लक्ष्य रखा है।
  • भारत की 40% उर्जा क्षमता गैर-जीवाश्म इंधन स्त्रोतों से प्राप्त की जायेगी।
  • 2030 तक अतिरिक्त वन क्षेत्र के द्वारा 2.5 से 3 अरब टन कार्बन डाइऑक्साइड के सामान का कार्बन सिंक तैयार करना।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , , , ,

आर्थिक पूँजी फ्रेमवर्क की समीक्षा के लिए  RBI ने समिति का गठन किया

भारतीय रिज़र्व बैंक ने हाल ही में पूर्व गवर्नर बिमल जालान की अध्यक्षता में एक विशेषज्ञ समिति का गठन किया है। यह समिति RBI के रिज़र्व पर सुझाव देगी। यह समिति इस बात पर भी सुझाव देगी कि क्या RBI आधिक्य का स्थानांतरण सरकार को कर सकती है। इस 6 सदस्यीय समिति में पूर्व RBI डिप्टी गवर्नर राकेश मोहन वाईस चेयरमैन हैं। समिति के अन्य सदस्य आर्थिक मामले सचिव सुभाष चन्द्र गर्ग, RBI सेंट्रल बोर्ड के सदस्य भरत जोशी और सुधीर मांकड़ तथा डिप्टी गवर्नर एन.एस. विश्वनाथन हैं। यह समिति RBI द्वारा आकस्मिक उपयोग के लिए रखे गये भंडार तथा बफर के विभिन्न प्रावधानों की समीक्षा करेगा। यह समिति पहली बैठक के 90 दिन के भीतर अपनी रिपोर्ट सौंपेगी।

बिमल जालान

बिमल जालन का जन्म 17 अगस्त, 1941 को राजस्थान के सादुलपुर में हुआ था। उन्होंने प्रेसीडेंसी कॉलेज कलकत्ता, कैंब्रिज तथा ऑक्सफ़ोर्ड से अपनी पढाई पूरी की। वे 1980 के दशक में भारत सरकार के प्रमुख सलाहकार रहे। 1985 से 1989 में उन्होंने बैंकिंग सचिव के रूप में कार्य किया। जनवरी, 1991 से सितम्बर 1992 के बीच वे वित्त सचिव रहे। वे 22 नवम्बर 2000 से 21 नवम्बर, 2004 तक दो बार भारतीय रिज़र्व बैंक के गवर्नर नियुक्त किये गये। उनके कार्यकाल में ही एक हज़ार रुपये का नोट जारी किया गया था।

भारतीय रिजर्व बैंक

भारतीय रिजर्व बैंक भारत का केन्द्रीय बैंक है। यह भारत के सभी बैंकों का संचालक है। रिजर्व बैक भारत की अर्थव्यवस्था को नियन्त्रित करता है। 1 अप्रैल सन 1935 को इसकी स्थापना रिजर्व बैंक ऑफ इण्डिया अधिनियम, 1934 के अनुसार हुई थी।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , , ,

Advertisement