करेंट अफेयर्स - जनवरी, 2019

गोवा के डाबोलिम अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे में खुला देश का पहला GI स्टोर

हाल ही में केन्द्रीय नागरिक विमानन मंत्रालय ने गोवा के डाबोलिम अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे में देश का पहला GI (भौगोलिक संकेत) स्टोर शुरू किया। इस स्टोर में स्थानीय विशिष्ट  उत्पादों को बढ़ावा दिया जायेगा। इसमें उन उत्पादों को रखा जायेगा, जिन्हें GI (भौगोलिक संकेत) टैग प्राप्त है।

विशिष्ट भौगोलिक संकेत (Geographical Indication)

GI टैग अथवा पहचान उस वस्तु अथवा उत्पाद को दिया जाता है जो कि विशिष्ट क्षेत्र का प्रतिनिधत्व करती है, अथवा किसी विशिष्ट स्थान पर ही पायी जाती है अथवा वह उसका मूल स्थान हो। GI टैग कृषि उत्पादों, प्राकृतिक वस्तुओं तथा निर्मित वस्तुओं उनकी विशिष्ट गुणवत्ता के लिए दिया जाता है। यह GI पंजीकरण 10 वर्ष के लिए वैध होता है, बाद में इसे रीन्यू करवाना पड़ता है। कुछ महत्वपूण GI टैग प्राप्त उत्पाद दार्जीलिंग चाय, तिरुपति लड्डू, कांगड़ा पेंटिंग, नागपुर संतरा तथा कश्मीर पश्मीना इत्यादि हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , , , ,

गणतंत्र दिवस परेड में ICAR की झांकी को मिला प्रथम पुरस्कार

गणतंत्र दिवस 2019 की परेड में भारतीय कृषि अनुसन्धान परिषद् (ICAR) की झांकी को प्रथम पुरस्कार मिला। भारतीय कृषि अनुसन्धान परिषद् की झांकी की थीम “किसान गाँधी” थी। इस झांकी के द्वारा ग्रामीण समृद्धि के लिए दुग्ध उत्पादन, स्वदेशी नस्लों के उपयोग तथा जैविक कृषि को दर्शाया गया था। रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने ICAR टीम को प्रथम पुरस्कार प्रदान किया।

भारतीय कृषि अनुसन्धान परिषद् (ICAR)

भारतीय कृषि अनुसन्धान परिषद् (ICAR) की स्थापना 15 जुलाई, 1929 को की गयी थी। इसका मुख्यालय नई दिल्ली में स्थित है। यह एक स्वायत्त संस्था है, इसका प्रमुख कार्य भारत में शिक्षा अनुसन्धान तथा शिक्षा के लिए समन्वय स्थापित करना है। ICAR अपनी रिपोर्ट केन्द्रीय कृषि मंत्रालय के अधीन कृषि अनुसन्धान व शिक्षा विभाग को सौंपता है। केन्द्रीय कृषि मंत्री ICAR के अध्यक्ष होते हैं। इसका आदर्श वाक्य “मानवीय संवेदना के साथ कृषि अनुसन्धान” है।

Categories:

Month:

Tags: , , , , ,

Advertisement