करेंट अफेयर्स – जुलाई, 2019

ओडिशा के रसगुल्ले को मिला GI टैग

हाल ही में ओडिशा के रसगुल्ले को विशिष्ट भौगोलिक संकेत (GI) टैग प्रदान किया गया। दो वर्ष पूर्व पश्चिम बंगाल को रसगुल्ले को GI टैग प्रदान किया गया था।

विशिष्ट भौगोलिक संकेत (Geographical Indication)

GI टैग अथवा पहचान उस वस्तु अथवा उत्पाद को दिया जाता है जो कि विशिष्ट क्षेत्र का प्रतिनिधत्व करती है, अथवा किसी विशिष्ट स्थान पर ही पायी जाती है अथवा वह उसका मूल स्थान हो। GI टैग कृषि उत्पादों, प्राकृतिक वस्तुओं तथा निर्मित वस्तुओं उनकी विशिष्ट गुणवत्ता के लिए दिया जाता है। यह GI पंजीकरण 10 वर्ष के लिए वैध होता है, बाद में इसे रीन्यू करवाना पड़ता है। कुछ महत्वपूण GI टैग प्राप्त उत्पाद दार्जीलिंग चाय, तिरुपति लड्डू, कांगड़ा पेंटिंग, नागपुर संतरा तथा कश्मीर पश्मीना इत्यादि हैं।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , ,

पूर्व केन्द्रीय मंत्री तथा वरिष्ठ कांग्रेस नेता जयपाल रेड्डी का निधन हुआ

हाल ही में पूर्व केन्द्रीय मंत्री तथा वरिष्ठ कांग्रेस नेता जयपाल रेड्डी का निधन 28 जुलाई, 2019 को हैदराबाद में हुआ। उन्होंने राजनीती की शुरुआत छात्र राजनीती से ओस्मानिया विश्वविद्यालय से की थी।

जयपाल रेड्डी

जयपाल रेड्डी का जन्म 16 जनवरी, 1942 को तेलंगाना के मद्गुल में हुआ था। वे 1970 के दशक में कांग्रेस के विधायक बने। इंदिरा गाँधी द्वारा आपातकाल लगाये जाने के बाद वे जनता पार्टी में शामिल हो गये। बाद में 1999 में वे पुनः कांग्रेस में शामिल हो गये। 2004 में उन्हें लोकसभा के लिए मिर्यालगुडा से लोकसभा के लिए निर्वाचित किया गया था। वे UPA-I तथा UPA-II सरकारों में केन्द्रीय मंत्री रहे। वे पांच बार लोकसभा तथा दो बार राज्यसभा के लिए चुने गये।

UPA की प्रथम सरकार वे केन्द्रीय सूचना व प्रसारण मंत्री तथा शहरी विकास मंत्री रहे। UPA की दूसरी सरकार में वे 29 अक्टूबर, 2012 से 18 मई, 2014 तक केन्द्रीय विज्ञान व तकनीक मंत्री रहे।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , , , ,

Advertisement