करेंट अफेयर्स - जून, 2019

EQUIP : गुणवत्तापूर्ण शिक्षा पर मानव संसाधन विकास मंत्रालय का विज़न प्लान

केन्द्रीय मानव संसाधन विकास मंत्रालय के उच्च शिक्षा विभाग ने पांच वर्षीय विज़न प्लान तैयार कर लिया है, इस विज़न प्लान को “Education Quality Upgradation and Inclusion Programme” (EQUIP)  नाम दिया गया है।

EQUIP

यह प्लान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दिशानिर्देश के अनुसार तैयार किया गया है, उन्होंने प्रत्येक मंत्रालय को अगले पांच वर्षों के लिए विज़न प्लान तैयार करने के लिए कहा था।

10 महत्वपूर्ण क्षेत्र

  1. पहुँच बढाने के लिए योजनायें
  2. वैश्विक सर्वश्रेष्ठ अध्यापन/सीखने की प्रक्रिया
  3. उत्कृष्टता को बढ़ावा देना
  4. शासनात्मक सुधार
  5. मूल्यांकन, प्रमाणन तथा रैंकिंग सिस्टम
  6. अनुसन्धान व नवाचार को बढ़ावा
  7. उद्यमशीलता
  8. बेहतर पहुँच के लिए तकनीक का उपयोग
  9. अंतर्राष्ट्रीयकरण
  10. उच्च शिक्षा के लिए वित्तपोषण

विशेषज्ञ समूह : उपरोक्त महत्वपूर्ण क्षेत्रों  के लिए विशेषज्ञ समूह ने 50 से अधिक सुझाव दिए हैं, इनसे देश के उच्च शिक्षा क्षेत्र का पूर्ण रूप से कायाकल्प किया जा सकता है।

विशेषज्ञ समूह द्वारा उच्च शिक्षा क्षेत्र के लिए निर्धारित किये गये लक्ष्य

  1. ग्रॉस एनरोलमेंट रेश्यो (GER) को दोगुना करना
  2. भारत का प्रचार एक वैश्विक शिक्षा केंद्र के रूप में करना
  3. शिक्षा की गुणवत्ता को वैश्विक स्तर पर अपग्रेड करना
  4. विश्व के टॉप 1000 विश्वविद्यालयों में कम से कम 50 भारतीय संस्थानों को शामिल करना
  5. अनुसन्धान व नवाचार को बढ़ावा देना और भारत को टॉप-3 देशों में शामिल करना
  6. उच्च-शिक्षण संस्थानों में शासनात्मक सुधारों को बढ़ावा देना
  7. गुणवत्ता सुनिश्चित करने के लिए सभी संस्थानों का प्रमाणन
  8. उच्च शिक्षण संस्थानों से पास होने वाले छात्रों के रोज़गार अवसरों को दोगुना करना
  9. शिक्षा तकनीक का विस्तार
  10. उच्च शिक्षा मे निवेश को बढ़ावा देना

Categories:

Month:

Tags: , , , ,

भारत का विदेशी मुद्रा भंडार 426.4 अरब डॉलर पर पहुंचा

21 जून को समाप्त हुए सप्ताह के दौरान भारत का विदेशी मुद्रा भंडार 4.215 अरब डॉलर की वृद्धि  के साथ 426.42 अरब डॉलर तक पहुँच गया है। विश्व में सर्वाधिक विदेशी मुद्रा भंडार वाले देशों की सूची में भारत 8वें स्थान पर है, इस सूची में चीन पहले स्थान पर है।

विदेशी मुद्रा भंडार

इसे फोरेक्स रिज़र्व या आरक्षित निधियों का भंडार भी कहा जाता है भुगतान संतुलन में विदेशी मुद्रा भंडारों को आरक्षित परिसंपत्तियाँ’ कहा जाता है तथा ये पूंजी खाते में होते हैं। ये किसी देश की अंतर्राष्ट्रीय निवेश स्थिति का एक महत्त्वपूर्ण भाग हैं। इसमें केवल विदेशी रुपये, विदेशी बैंकों की जमाओं, विदेशी ट्रेज़री बिल और अल्पकालिक अथवा दीर्घकालिक सरकारी परिसंपत्तियों को शामिल किया जाना चाहिये परन्तु इसमें विशेष आहरण अधिकारों , सोने के भंडारों और अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष की भंडार अवस्थितियों को शामिल किया जाता है। इसे आधिकारिक अंतर्राष्ट्रीय भंडार अथवा अंतर्राष्ट्रीय भंडार की संज्ञा देना अधिक उचित है।

21 जून, 2019 को विदेशी मुद्रा भंडार

विदेशी मुद्रा संपत्ति (एफसीए): $398.649 बिलियन
गोल्ड रिजर्व: $ 22.958 बिलियन
आईएमएफ के साथ एसडीआर: $ 1.453 बिलियन
आईएमएफ के साथ रिजर्व की स्थिति: $ 3.353 बिलियन

Categories:

Month:

Tags: , , , , ,

Advertisement