करेंट अफेयर्स – मार्च, 2019

इंडियन प्रीमियर लीग का 12वां संस्करण

23 मार्च, 2019 से इंडियन प्रीमियर लीग के 12वें संस्करण का आगाज़ हो रहा है। आईपीएल के 12वें संस्करण का पहला मुकाबला पिछली बार की चैंपियन टीम चेन्नई सुपर किंग्स तथा रॉयल चैलेंजर्स बंगलौर के बीच खेला जायेगा। गौरतलब है कि इस बार BCCI ने आईपीएल के उद्घाटन समारोह को पुलवामा हमले के बाद रद्द कर दिया था, इस समारोह में खर्च की जाने वाली 20 करोड़ रुपये की राशि पुलवामा हमले में शहीद होने वाले वीर सैनिकों के परिवारों को दी जायेगी।

इंडियन प्रीमियर लीग

इंडियन प्रीमियर लीग विश्व की अग्रणी खेल लीग है। इस लीग को टी-20 फॉर्मेट में खेला जाता है। इसका आयोजन भारतीय क्रिकेट कण्ट्रोल बोर्ड द्वारा किया जाता है। आईपीएल में इस बार कुल आठ टीमें हिस्सा ले रहीं हैं : मुंबई इंडियन्स, कलकत्ता नाईट राइडर्स, चेन्नई सुपर किन्ग्ड्स, रॉयल चैलेंजर्स बंगलौर, सनराइजर्स हैदराबाद, दिल्ली कैपिटल्स, किंग्स इलेवन पंजाब तथा राजस्थान रॉयल्स।

  • इसके पहले संस्करण का आयोजन 2008 में किया गया था।
  • आईपीएस की ब्रांड वैल्यू लगभग 6.3 अरब डॉलर है।
  • चेन्नई सुपर किंग्स और मुंबई इंडियन्स आईपीएल की सबसे सफल टीमें हैं, यह दोनों टीमें 3-3 बार आईपीएल का खिताब जीत चुकी हैं।
  • सुरेश रैना आईपीएल में सर्वाधिक रन बनाने वाले बल्लेबाज़ हैं, वे आईपीएल में अब तक 4,985 रन बना चुके हैं।
  • श्रीलंका के लसिथ मलिंगा आईपीएल के सबसे सफल गेंदबाज़ हैं, वे अब तक 154 विकेट ले चुके हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , , , , , , , ,

भारतीय नौसेना इदाई चक्रवात से पीड़ित लोगों की सहायता के लिए बचाव व राहत कार्य में शामिल हुई

भारतीय नौसेना मोजाम्बिक में इदाई चक्रवात से पीड़ित लोगों की सहायता के लिए बचाव व राहत कार्य में शामिल हुई। राहत व बचाव दल पीड़ितों को राहत शिविरों में भोजन, पानी, मेडिकल सहायता इत्यादि उपलब्ध करवा रहे हैं। इस चक्रवात से लाखों लोग प्रभावित हुए हैं। इस चक्रवात से मोजाम्बिक में 242 तथा ज़िम्बाब्वे में 259 लोगों की मृत्यु हो चुकी है।

हाल ही में इदाई नामक चक्रवात से मोजाम्बिक, मलावी, ज़िम्बाब्वे तथा दक्षिण अफ्रीका में जान-माल की काफी हानि हुई है। इदाई चक्रवात मोजाम्बिक से शुरू होते हुए पश्चिमी दिशा की ओर आगे अग्रसर हुआ। इदाई चक्रवात वर्ष 2019 का सबसे भीषण चक्रवात है। इस चक्रवात का निर्माण मोजाम्बिक में हुआ था।

उष्णकटिबंधीय चक्रवात

उष्णकटिबंधीय चक्रवात निम्न दाब वाले क्षेत्रों में निर्मित होते हैं, यह सामान्यतया उष्णकटिबंधीय तथा उपोषण कटिबंधीय जल क्षेत्रों के ऊपर निर्मित होते हैं। यह चक्रवात उत्तरी गोलार्ध में घड़ी की सुई की दिशा के विपरीत तथा दक्षिणी गोलार्ध  में घड़ी की सुई की दिशा के अनुकूल घूमते हैं।

  • उष्णकटिबंधीय चक्रवात के निर्माण के लिए आवश्यक स्थितियां
  • 27 डिग्री सेल्सियस अथवा इससे अधिक के तापमान वाले महासागर  से गुज़रने वाली गर्म तथा नमीयुक्त वायु।
  •  महासागरीय सतह पर विभिन्न दिशाओं में हवा का बहना।
  • पृथ्वी की घूर्णन गति के कारण कोरिओलिस बल का निर्माण होता है। एक बार जब तूफानी बादल घूमना शुरू करता है तो यह धीरे-धीरे उष्णकटिबंधीय अवसाद के रूप में परिवर्तित हो जाता है। यदि इसका विस्तार निरंतर होता है तो यह चक्रवातीय तूफ़ान, बाद मे चक्रवात/महा चक्रवात बन सकता है।

चक्रवात में केंद्र में दाब कम होता है तथा इसके चारों ओर दाब अधिक होता है, वायु उच्च दाब से निम्न दाब की ओर यात्रा करती है। चक्रवात के केंद्र में दाब कम होने तथा इसके बाहर दाब अधिक होने की दर में वृद्धि के कारण चक्रवातीय पवनों की गति और भी तीव्र हो जाती है

Categories:

Month:

Tags: , , , ,

Advertisement