करेंट अफेयर्स - मई, 2019

आचार्य बालकृष्ण को UNSDG इन्फ़्लुएन्शियल पीपल इन हेल्थ केयर अवार्ड

हाल ही में पतंजलि आयुर्वेद के मैनेजिंग डायरेक्टर आचार्य बालकृष्ण को UNSDG इन्फ़्लुएन्शियल पीपल इन हेल्थ केयर अवार्ड से सम्मानित किया गया। उन्हें यह सम्मान स्विट्ज़रलैंड के जिनेवा में प्रदान किया गया।

आचार्य बालकृष्ण

आचार्य बालकृष्ण एक आयुर्वेदाचार्य हैं, उनका जन्म 4 अगस्त,1972 को नेपाल के स्यांगजा जिले में हुआ था। उनके पास पतंजलि आयुर्वेद के 98.6% शेयर हैं। वे योग गुरु स्वामी रामदेव के साथ काफी समय से कार्य कर रहे हैं। उनकी कुल परिसंपत्ति लगभग 6.8 अरब डॉलर है।

पतंजलि आयुर्वेद

पतंजली आयुर्वेद विभिन्न किस्म के उपभोक्ता पदार्थों का उत्पादन करती है। इस कंपनी की स्थापना स्वामी रामदेव तथा आचार्य बालकृष्ण ने 2006 में की थी। पतंजली आयुर्वेद भारत की सबसे तेज़ गति से आगे बढ़ने वाली FMCG (फ़ास्ट मूविंग कंज्यूमर गुड्स) कंपनी है।

Categories:

Month:

Tags: , , , ,

भारतीय वायुसेना के AN-32 एयरक्राफ्ट को स्वदेशी जैव-जेट इंधन के द्वारा उड़ान भरने के लिए प्रमाणीकृत किया गया

हाल ही में भारतीय वायुसेना के AN-32 एयरक्राफ्ट को स्वदेशी जैव-जेट इंधन के द्वारा उड़ान भरने के लिए प्रमाणीकृत किया गया। AN-32 एक परिवहन विमान है, इसका निर्माण रूस द्वारा किया गया था।

मुख्य बिंदु

इस जैव-जेट इंधन में 10% इंधन जैव इंधन होगा, शेष 90% पारंपरिक हवाई इंधन होगा। AN-32 में जैव-इंधन की अनुमति Centre for Military Airworthiness and Certification (CEMILAC) द्वारा दी गयी है। सर्वप्रथम जैव-जेट इंधन का उत्पादन 2013 में देहरादून में CSIR-IIP लैब में किया गया था। परन्तु परीक्षण फैसिलिटी के अभाव में इसका परीक्षण वाणिज्यिक उपयोग के लिए किया जा सका।

जुलाई, 2018 में वायुसेना के प्रमुख बी.एस. धनोआ ने स्वदेशी इंधन के परीक्षण तथा प्रमाणीकरण की घोषणा की थी। इसके बाद भारतीय वायुसेना के इंजीनियर तथा फ्लाइट टेस्ट क्रू ने विभिन्न टेस्ट किये।

पिछले एक वर्ष में भारतीय वायुसेना ने हरित हवाई इंधन के कई परीक्षण किये। इन परीक्षणों का उद्देश्य इंधन के अंतर्राष्ट्रीय मानक सुनिश्चित करना था।

Categories:

Month:

Tags: , , , , ,

Advertisement