करेंट अफेयर्स - मई, 2019

विश्व स्वास्थ्य संगठन ने अल्जीरिया तथा अर्जेंटीना को मलेरिया से मुक्त किया

विश्व स्वास्थ्य संगठन ने हाल ही में अल्जीरिया और अर्जेंटीना को मलेरिया से मुक्त घोषित किया। इन दो देशों में पिछले कुछ समय पर मलेरिया का कोई नया मामला सामने नहीं आया है। मलेरिया एनोफील्स नामक मादा मच्छर के काटने से होता है, 2017 में मलेरिया के कारण 4,35,000 लोगों की मौत हुई थी, इसमें अधिकतर मृतक अफ्रीका में 5 वर्ष से कम आयु के बच्चे थे।

मलेरिया

मलेरिया मच्चार के कारण होने वाला रोग है, एक एक संक्रामक रोग है। मलेरिया एनोफीलीज़ मादा मच्छर के काटने से होता है। यह पैरासाईंटिक प्रोटोजोआ के कारण होता है। जब संक्रमित मच्छर किसी व्यक्ति को काटता है तो परजीवी इस व्यक्ति के यकृत (लीवर) में तेज़ी से बढ़ना शुरू हो जाते हैं। यह शरीर में लाल रक्त कोशिकाओं (आरबीसी) को संक्रमित करके नष्ट कर देता है। शुरूआती निदान से मलेरिया को नियंत्रित किया जा सकता है।

मलेरिया के लक्षण  

सर्दी-ज़ुकाम

बुखार

सांस लेने में तकलीफ

असामान्य रक्त बहाव

रक्ताल्पता (एनीमिया) के लक्षण

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , ,

किर्गिज़्स्तान में किया गया शंघाई सहयोग संगठन के विदेश मंत्रियों की बैठक का आयोजन

शंघाई सहयोग संगठन के विदेश मंत्रियों की बैठक का आयोजन किर्गिज़्स्तान में किया गया। यह बैठक किर्गिज़्स्तान की राजधानी बिश्केक में आयोजित की गयी। इस बैठक में भारत की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने भी हिस्सा लिया। पिछले बार इस बैठक का आयोजन चीन की राजधानी बीजिंग में अप्रैल, 2018 मे किया गया था।

शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ)

यह एक राजनीतिक और सुरक्षा समूह है जिसका मुख्यालय बीजिंग में है। रूस, चीन, किर्गिज गणराज्य, कजाखस्तान, ताजिकिस्तान और उज्बेकिस्तान के राष्ट्रपतियों ने वर्ष 2001 में शंघाई में एक शिखर सम्मेलन में एससीओ की स्थापना की थी। यह 40% से अधिक मानवता एवं वैश्विक सकल घरेलू उत्पाद का लगभग 20% हिस्से का प्रतिनिधित्व करता हैं। अफगानिस्तान, बेलारूस, ईरान और मंगोलिया वर्तमान में इसके पर्यवेक्षक है। वर्ष 2005 में भारत और पाकिस्तान को इस समूह के पर्यवेक्षकों के तौर पर शामिल किया गया था. दोनों देशों को वर्ष 2017 में पूर्ण सदस्य बनाया गया।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , ,

Advertisement