करेंट अफेयर्स- नवंबर, 2018

अर्जेंटीना के बुनोएस एरेस में किया जायेगा G-20 सम्मेलन 2018 का आयोजन

जी-20 सम्मेलन 2018 का आयोजन अर्जेंटीना की राजधानी बूएनोस एरेस में किया जायेगा, यह दक्षिण अमेरिका में आयोजित किया जाने वाले जी-20 का पहला शिखर सम्मेलन है। यह जी-20 समूह की 13वीं बैठक है। इसका आयोजन 30 नवम्बर से 1 दिसम्बर, 2018 के दौरान किया जायेगा।

इस वर्ष जी-20 शिखर सम्मेलन के अध्यक्ष अर्जेंटीना के राष्ट्रपति मौरिसियो मक्री हैं। इस सम्मेलन में चिली, जमैका, नीदरलैंड्स, पापुआ न्यू गिनी, रवांडा, सिंगापुर और स्पेन को भी आमंत्रित किया गया है। इस बैठक में भारत का प्रतिनिधित्व प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी करेंगे।

जी-20

जी-20 सरकारों व केन्द्रीय बैंकों का एक अंतर्राष्ट्रीय फोरम है, इसमें विश्व के सभी बड़ी अर्थव्यवस्थाएं शामिल हैं। जी-20 का गठन 26 सितम्बर, 1999 को किया गया था। इसका उद्देश्य सदस्य देशों को वैश्विक अर्थव्यवस्था के मुख्य बिन्दुओं व समस्याओं पर चर्चा करने के लिए एकत्रित करना है। जी-20 समूह के सदस्य इस प्रकार हैं : अर्जेंटीना, ऑस्ट्रेलिया, ब्राज़ील, कनाडा, चीन, फ्रांस, जर्मनी, भारत, इंडोनेशिया, इटली, जापान, मेक्सिको, रूस, सऊदी अरब, दक्षिण अफ्रीका, दक्षिण कोरिया, तुर्की, यूनाइटेड किंगडम, अमेरिका और यूरोपियन संघ।

Categories:

Month:

Tags: , , , , , , ,

NPCC को प्रदान किया गया मिनीरत्न श्रेणी-I स्टेटस

केंद्र सरकार ने राष्ट्रीय प्रोजेक्ट्स निर्माण कारपोरेशन लिमिटेड (NPCC) को मिनीरत्न: श्रेणी-I का स्टेटस प्रदान किया। इस स्टेटस के बाद कंपनी का सशक्तिकरण होगा और निर्णय निर्माण में भी तेज़ी आएगी।

राष्ट्रीय प्रोजेक्ट्स निर्माण कारपोरेशन लिमिटेड (NPCC)

NPCC जल संसाधन मंत्रालय के प्रशासनिक नियंत्रण के अंतर्गत अनुसूची “बी” की केन्द्रीय सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनी है, इसका स्थापना 1957 में की गयी थी। यह कंपनी देश के आर्थिक विकास के लिए अधोसंरचना निर्माण के क्षेत्र में कार्य करती है। इसे ISO 9001:2015 सर्टिफिकेशन प्राप्त है। NPCC 2009-10 से निरंतर लाभ कमा रही है।

पृष्ठभूमि

केन्द्रीय भारी उद्योग व सार्वजनिक उद्योग मंत्रालय के अंतर्गत सार्वजनिक उद्योग विभाग द्वारा महारत्न, नवरत्न तथा मिनी रत्न स्टेटस सार्वजनिक क्षेत्र की इकाइयों को प्रदान किये जाते हैं। यह स्टेटस इन सार्वजनिक कंपनियों द्वारा अर्जित किये गये लाभ के आधार पर प्रदान किया जाता है। स्टेटस के साथ इन कंपनियों के एक सीमा तक अधिक वित्तीय तथा प्रशासनिक शक्तियों भी प्रदान की जाती है। वर्तमान में 8 महारत्न, 16 नवरत्न, 60 मिनीरत्न श्रेणी-I और 15 मिनीरत्न श्रेणी-II केन्द्रीय सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनियां शामिल हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , , , , ,

Advertisement