करेंट अफेयर्स- नवंबर, 2018

लद्दाख पुनर्स्थापना परियोजना ने सांस्कृतिक धरोहर संरक्षण के लिए जीता 2018 यूनेस्को एशिया-प्रशांत पुरस्कार

लद्दाख पुनर्स्थापना परियोजना ने सांस्कृतिक धरोहर संरक्षण के लिए 2018 यूनेस्को एशिया-प्रशांत पुरस्कार जीता। यह पुरस्कार लद्दाख में एक प्राचीन जीर्ण कुलीन निवास की पुनर्स्थापना के लिए दिया गया। यह पुनर्स्थापना कार्य लद्दाख कला व मीडिया संगठन (LAMO) द्वारा किया गया है। LAMO एक जन कल्याणकारी ट्रस्ट है।

अन्य श्रेणियों के विजेता

अवार्ड ऑफ़ एक्सीलेंस : यह पुरस्कार जापान में 20वीं शताब्दी के शिजो-ओचो ओफुने-होको फ्लोट मचिया के पुनर्निर्माण कार्य के लिए दिया गया है। इसमें क्योटो की संस्कृति की झलक दिखती है।

अवार्ड ऑफ़ डिस्टिंक्शन : LAMO केंद्र, लद्दाख, भारत।

अवार्ड ऑफ़ मेरिट : 5 मार्टिन प्लेस, सिडनी (ऑस्ट्रेलिया); एजिंग झुआंग, फुजियान (चीन); कमर्शियल बैंक ऑफ़ होंजो वेयरहाउस, साईंतामा (जापान)।

ऑनरेबल मेंशन : हेंगदाओहेज़ी टाउन, हेइलोंगजियांग (चीन), राजाबाई क्लॉक टावर और मुंबई विश्वविद्यालय पुस्तकालय भवन (भारत), रटनसी मुल्जी जेठा प्रपात, मुंबई (भारत) ।

धरोहर के सन्दर्भ में नवीन डिजाईन : काओमई एस्टेट 1955, चियांग मई (थाईलैंड) और हार्ट्स मिल, पोर्ट एडिलेड (ऑस्ट्रेलिया)।

सांस्कृतिक धरोहर संरक्षण के लिए यूनेस्को एशिया-प्रशांत पुरस्कार

इस पुरस्कार की स्थापना वर्ष 2000 में की गयी थी, इस पुरस्कार के द्वारा उन व्यक्तियों तथा संस्थाओं को सम्मानित किया जाता है जिन्होंने ऐतिहासिक धरोहर की इमारतों के संरक्षण के लिए कार्य किया है। इसका उद्देश्य इस प्रकार की इमारतों के मालिकों को भवनों के संरक्षण के लिए प्रेरित करना है।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , ,

सिंगापुर में शुरू हुआ 33वां आसियान शिखर सम्मेलन

11 नवम्बर, 2018 को सिंगापुर में 33वां आसियान शिखर सम्मेलन शुरू हुआ। सिंगापुर ह्सिन लूँग इस शिखर सम्मेलन के अध्यक्ष हैं। इस सम्मलेन का समापन 15 नवम्बर को होगा। इस सम्मेलन में भारत की ओर से प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी हिस्सा लेंगे, वे 14 और 15 नवम्बर को इस सम्मेलन में हिस्सा लेंगे। इस सम्मेलन में 10 आसियान सदस्य देश तथा 8 पार्टनर देशों के प्रमुख हिस्सा लेंगे। इसके अतिरिक्त इस सम्मेलन में लगभग 100 देशों से 400 से अधिक कंपनियां हिस्सा लेंगी।

आसियान

यह 10 दक्षिण पूर्व एशियाई देशों का अंतर-सरकारी संगठन है। इसकी स्थापना 6 अगस्त 1967 को हुई थी। इसका मुख्यालय जकार्ता, इंडोनेशिया में है।
इसके सदस्य देश इंडोनेशिया, मलेशिया, फिलीपींस, सिंगापुर, थाईलैंड, ब्रुनेई, कंबोडिया, लाओस, म्यांमार और वियतनाम हैं।

चार्टर में आसियान के उद्देश्य के बारे में बताया गया है।सदस्य देशों की संप्रभुता, क्षेत्रीय अखंडता और स्वतंत्रता को कायम रखना साथ ही विवादों का शांतिपूर्ण निपटारा हो इसके उदेश्यों में शामिल है। इसके सेक्रेट्री जनरल आसियान द्वारा पारित किए प्रस्तावों को लागू करवाने और कार्य में सहयोग प्रदान करने का काम करतें है। इनका कार्यकाल पांच वर्ष का होता है।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , ,

Advertisement