करेंट अफेयर्स - नवंबर, 2019

संयुक्त राष्ट्र विकास कार्यक्रम ने नई दिल्ली में एक्सेलरेटर लैब लांच की

संयुक्त राष्ट्र विकास कार्यक्रम ने नई दिल्ली में एक्सेलरेटर लैब लांच की है। इसका उद्देश्य भारत में सबसे महत्वपूर्ण मुद्दों पर कार्य करना है, इसमें वायु प्रदूषण भी शामिल है। इस लैब में नवोन्मेष के द्वारा समाधान ढूंढें जायेंगे। इस उद्देश्य की पूर्ती के लिए संयुक्त राष्ट्र विकास कार्यक्रम (UNDP) ने नीति आयोग के अटल इनोवेशन मिशन के साथ साझेदारी की है।

एक्सेलरेटर लैब

यह लैब की स्थापना नई दिल्ली में संयुक्त राष्ट्र विकास कार्यक्रम (UNDP) के कार्यालय में जायेगी। इस लैब की स्थपाना का मुख्य उद्देश्य संयुक्त राष्ट्र के सतत विकास लक्ष्यों को 2030 तक पूरा करना है।

इस लैब में इनोवेटर देश के सबसे महत्वपूर्ण मुद्दों के लिए समाधान ढूँढने का कार्य करेंगे। इस लैब में मुख्य रूप से वायु प्रदूषण, सतत जल प्रबंधन जैसे मुद्दों पर कार्य किया जाएगा।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , ,

केंद्र सरकार ने फास्टैग को अनिवार्य रूप से लागू करने की तारीख को 15 दिसम्बर तक बढ़ाया

केंद्र सरकार ने फास्टैग को अनिवार्य रूप से लागू करने की तारीख को 15 दिसम्बर तक बढ़ाया है। इससे पहले 1 दिसम्बर, 2019 से फास्टैग को अनिवार्य रूप से लागू करने की योजना थी। इस तिथि में बदलाव का करने का उद्देश्य लोगों को अपने वाहनों में फास्टैग लगाने के लिए अतिरिक्त समय प्रदान करना है। गौरतलब है कि 15 दिसम्बर के बाद बिना फ़ास्टैग वाले वाहनों को सामान्य से दोगुना टोल वसूला जाएगा।

FASTag क्या है?

FASTag इलेक्ट्रॉनिक टोल संग्रहण प्रणाली है, इसका संचालन राष्ट्रीय उच्चमार्ग प्राधिकरण (NHAI) द्वारा किया जा रहा है। FASTag के द्वारा टोल प्लाजा में रुके बिना ही व्यक्ति के खाते से टोल चार्ज अपने आप कट जायेगा, अब टोल कर अदा करने के लिए गाड़ी रोकने की ज़रुरत नहीं पड़ेगी।

FASTag एक प्रीपेड अकाउंट से जुड़े हुए होते हैं, इसके द्वारा टोल प्लाजा से गुजरते हुए व्यक्ति के खाते से टोल अपने आप ही कट जायेगा। FASTag के लिए रेडियो-फ्रीक्वेंसी आइडेंटिफिकेशन टेक्नोलॉजी का उपयोग किया जा रहा है।

FASTag की विशेषताएं

  • FASTag को ग्राहक अपनी पसंद के बैंक खाते से लिंक कर सकते हैं।
  • इससे ग्राहकों को काफी सुविधा होगी।
  • FASTag एप्प की सहायता से किसी भी FASTag को रिचार्ज किया जा सकता है।
  • बाद में FASTag का उपयोग पेट्रोल पंप पर इंधन को खरीदने के लिए भी किया जा  सकता है।

रेडियो-फ्रीक्वेंसी आइडेंटिफिकेशन टेक्नोलॉजी (RFID)

रेडियो-फ्रीक्वेंसी आइडेंटिफिकेशन टेक्नोलॉजी इलेक्ट्रोमैग्नेटिक फील्ड का उपयोग करता है, यह उन टैग्स को डिटेक्ट करता है जिनमे इलेक्ट्रानिकली सूचना स्टोर की जाती है।

एक द्वि-मार्गीय रेडियो ट्रांसमीटर-रिसीवर टैग के लिए सिग्नल भेजता है तथा उसकी प्रतिक्रिया का अध्ययन करता है। RFID रीडर टैग के लिए एक एनकोडेड रेडियो सिग्नल भेजता है। टैग इस सिग्नल को रिसीव करता है तथा अपनी पहचान के साथ कुछ और सूचना को वापस भेजता है।

 

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , , ,

Advertisement