करेंट अफेयर्स- अक्तूबर, 2019

रोज़गार सृजन के लिए खादी व ग्रामोद्योग आयोग की पहल

खादी व ग्रामोद्योग आयोग (KVIC) ने रोज़गार सृजन के लिए गोवा सरकार के साथ मिलकर कार्य करने का निर्णय लिया है। गोवा में रोज़गार सृजन के लिए कई पहलें शुरू की गयी हैं। इससे पहले गोवा में कताई तथा बुनाई से सम्बंधित गतिविधियाँ काफी कम थी।

मुख्य बिंदु

  • 160 परिवारों में इलेक्ट्रिक पॉटर व्हील वितरित किये गये।
  • 50 प्रशिक्षित महिलाओं को नए मॉडल के स्पिन्निंग व्हील प्रदान किये गये।
  • एक लिज्जत पापड़ इकाई की स्थापना की गयी, इससे 700 लोगों को रोज़गार मिलेगा।

खादी व ग्रामोद्योग आयोग (KVIC)

KVIC, खादी और ग्रामोद्योग आयोग अधिनियम, 1956 के तहत गठित एक संवैधानिक निकाय है तथा यह सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्योग मंत्रालय (MSME) के तहत एक शीर्ष संगठन है। यह ग्रामीण इलाकों में खादी और ग्रामोद्योगों के विकास के लिए कार्यक्रमों की योजना, प्रचार, आयोजन और कार्यान्वयन करता है। यह कच्चे माल के भंडार निर्मित, प्रबंधित करता है और उत्पादकों को उनकी आपूर्ति भी करता है। यह खादी उत्पादों की बिक्री और मार्केटिंग को भी बढ़ावा देता है। यह खादी उद्योग में उत्पादन तकनीकों और उपकरणों में अनुसंधान को प्रोत्साहन और बढ़ावा देता है।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , , ,

भारतीय रेलवे ने सबसे एडवांस्ड इलेक्ट्रॉनिक इंटरलॉकिंग सिस्टम की स्थापना की

भारतीय रेलवे ने सबसे व्यस्त सेक्शन ‘ग्रैंड कॉर्ड रूट’ पर सबसे एडवांस्ड इलेक्ट्रॉनिक इंटरलॉकिंग सिस्टम की स्थापना की है। इस एडवांस्ड व सुरक्षित इलेक्ट्रॉनिक इंटरलॉकिंग सिस्टम की स्थापना उत्तर प्रदेश में टुंडला जंक्शन पर की गयी है।

मुख्य बिंदु

नए इलेक्ट्रॉनिक सिस्टम के द्वारा 65 वर्ष पुराने मैकेनिकल सिग्नलिंग को रीप्लेस किया गया है। इस नए सिस्टम से रेलवे ट्रेनों की गति को बढ़ा सकेगा, इसके द्वारा दिल्ली व हावड़ा के बीच यात्रा के समय को 17-19 घंटे से घटाकर 12 घंटे तक किया जा सकेगा।

टुंडला जंक्शन ही क्यों? इस रूट में निर्धारित क्षमता से 160% अधिक कार्य किया जाता है। टुंडला में 613 रूट कॉम्बिनेशन है।

ग्रैंड कॉर्ड रूट

ग्रैंड कॉर्ड रूट हावड़ा-गया-दिल्ली लाइन तथा हावड़ा-इलाहबाद-मुंबई लाइन का हिस्सा है। यह पश्चिम बंगाल में सीतारामपुर तथा उत्तर प्रदेश में पंडित दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन के बीच लिंक का कार्य करता है। इस रूट से कई महत्वपूर्ण रेलगाडियां गुज़रती हैं जो राष्ट्रीय राजधानी को देश के पूर्वी क्षेत्र से जोड़ती हैं। इसकी लम्बाई लगभग 450 किलोमीटर है।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , ,

Advertisement