करेंट अफेयर्स- अक्तूबर, 2019

गांधीनगर बना गुजरात का पहला केरोसीन मुक्त जिला

25 अक्टूबर, 2019 को केन्द्रीय मंत्री अमित शाह ने गुजरात के गांधीनगर जिले में महिलाओं को 1000 एलपीजी सिलिंडर वितरित किये। इन महिलाओं को उज्ज्वला योजना के तहत गैस सिलिंडर प्रदान किये गये हैं। इसके साथ ही गांधीनगर गुजरात का पहला केरोसीन मुक्त जिला बन गया है।

इस इवेंट के दौरान श्री अमित शाह ने क्षेत्र में पेयजल योजनाओं को भी लांच किया। इसके अलावा उन्होंने अंडरपास तथा दो सड़कों के लिए आधारशिला भी रखी। श्री अमित अमित ने एक कण्ट्रोल सेंटर का उद्घाटन भी किया गया। इस सेंटर के द्वारा वृद्ध जनों, विधवा महिलाओं तथा आयुष्मान भारत योजना के लाभार्थियों को लाभार्थी कार्ड दिए जायेंगे।

केरोसीन मुक्त राज्य

चंडीगढ़ भारत का प्रथम केरोसीन मुक्त शहर है। सरकार 2016 से देश में केरोसीन के उपयोग को कम करने का प्रयास कर रही है। 2020 तक केरोसीन पर मिलने वाली सभी प्रकार की सब्सिडी समाप्त कर दी जायेगी। 2018 तक आठ राज्य व केंद्र शासित प्रदेश केरोसीन मुक्त हो चुके हैं, यह राज्य व केंद्र शासित प्रदेश हैं : पुदुचेरी, दमन-दियु, दादरा नगर हवेली, आंध्र प्रदेश, ,चंडीगढ़, दिल्ली, हरियाणा व पंजाब।

Categories:

Month:

Tags: , , , , , , ,

सतर्कता जागरूकता सप्ताह 2019 शुरू हुआ

केन्द्रीय सतर्कता आयोग प्रतिवर्ष सरदार वल्लभ भाई पटेल के जन्म वाले सप्ताह को सतर्कता जागरूकता सप्ताह के रूप में मनाता है, सरदार पटेल का जन्म दिवस 31 अक्टूबर को मनाया जाता है। इस वर्ष सतर्कता जागरूकता सप्ताह 28 अक्टूबर से 2 नवम्बर, 2019 के बीच मनाया जा रहा है।

इस वर्ष की थीम “सत्यनिष्ठा-एक जीवन पद्धति” है।

गतिविधियां

केन्द्रीय सतर्कता आयोग ने केंद्र सरकार के मंत्रालय तथा संगठनों को इस सप्ताह के दौरान विभिन्न गतिविधियों का आयोजन करने के लिए कहा है। इस सप्ताह की मुख्य गतिविधियाँ निम्नलिखित हैं :

  • सभी कर्मचारियों द्वारा सत्यनिष्ठा की शपथ लेना।
  • भ्रष्टाचार को रोकने के लिए सतर्कता गतिविधियों तथा विस्सल ब्लोअर मैकेनिज्म के लिए  पम्फ्लेट्स वितरण।
  • कर्मचारियों के लिए भ्रष्टाचार की रोकथाम पर कार्यशाला का आयोजन।
  • जागरूकता फैलाने, सिस्टेमेटिक सुधार  के लिए पत्रिका तथा न्यूज़लैटर का प्रकाशन। भ्रष्टाचार विरोधी मुद्दों पर प्रश्नोत्तरी तथा परिचर्चा का आयोजन।

स्कूलों में इंटीग्रिटी क्लब्स

इस सप्ताह के दौरान स्कूलों तथा कॉलेज में इंटीग्रिटी क्लब्स की स्थापना की जाएगी, इसका उद्देश्य छात्रों में भविष्य के नेताओं के रूप में तैयार करना है।

ग्राम सभा जागरूकता

ग्राम सभा जागरूकता का उद्देश्य ग्रामीण क्षेत्रों में लोगों को भ्रष्टाचार के कुप्रभावों के बारे में जागरूक करवाना है। वर्ष 2017 में सतर्कता जागरूकता सप्ताह के दौरान 67,131 ग्राम सभाओं का आयोजन किया गया था।

Categories:

Month:

Tags: , , , , ,

Advertisement