अरुणाचल प्रदेश

11वां मैत्री दिवस : नार्थ-ईस्ट इंडस्ट्रियल कॉरिडोर की स्थापना की जायेगी

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने 14 नवम्बर, 2019 को अरुणाचल प्रदेश के तवांग में 11वें मैत्री दिवस को संबोधित किया। अपने संबोधन में उन्होंने क्षेत्र को विकसित करने के लिए विभिन्न सरकारी योजनाओं पर प्रकाश डाला।

सरकारी योजनायें

  • सरकार नार्थ-ईस्ट इंडस्ट्रियल कॉरिडोर की स्थापना की योजना बना रही है। इससे उत्तर-पूर्व के लोगों के लिए रोज़गार के अवसरों का सृजन होगा।
  • यह कॉरिडोर भारत तथा दक्षिण पूर्व एशिया को जोड़ेगा।
  • इससे व्यापार तथा पर्यटन को भी बढ़ावा मिलेगा।
  • भारत सरकार उत्तर-पूर्व भारत के विकास के द्वारा ‘एक्ट ईस्ट पालिसी’ का क्रियान्वयन कर रही है।
  • ईटानगर में होल्लोंगी एअरपोर्ट की स्थापना की जायेगी। इसके अलावा सामरिक दृष्टि से महत्वपूर्ण रेलवे लाइनों का निर्माण भी किया जायेगा।
  • केंद्र सरकार उत्तर-पूर्व के लोगों के लिए बेहतर सड़क कनेक्टिविटी प्रदान करने के लिए कार्य कर रही है।
  • इन सभी योजनाओं का क्रियान्वयन 2024 तक कर लिया जायेगा।

मैत्री दिवस

मैत्री दिवस दो दिवसीय सामाजिक-सैन्य सांस्कृतिक कार्यक्रम है, इसका आयोजना तवांग नागरिक प्रशासन तथा भारतीय थल सेना द्वारा किया जाता है। इस दिवस का आयोजन तवांग के लोगों तथा भारतीय थलसेना के बीच के विशेष सम्बन्ध के सम्मान में किया जाता है। इस दिवस की थीम ‘अपनी सेना को जानो’ है। इस दिवस के आयोजन का उद्देश्य युवाओं को सशस्त्र बलों में शामिल होने के लिए प्रेरित करना है।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , , , ,

अरुणाचल प्रदेश में शुरू हुआ हिमविजय अभ्यास

अरुणाचल प्रदेश में चीन के साथ लगने वाली सीमा के निकट भारतीय सेना द्वारा  ‘हिमविजय’ नामक युद्ध अभ्यास शुरू किया गया है। इस अभ्यास में M777 होवित्ज़र तथा चिनूक हैवी-लिफ्ट हेलिकॉप्टर का उपयोग किया जायेगा। इस अभ्यास के पहले चरण का आयोजन 7 से 10 अक्टूबर के बीच किया जायेगा। जबकि इसके दूसरे चरण का आयोजन 20 से 24 अक्टूबर, 2019 के दौरान किया जायेगा।

हिमविजय अभ्यास

इस युद्ध अभ्यास का आयोजन उत्तर पूर्वी भारत में 10,000 फीट की उंचाई पर किया जायेगा। इस युद्ध अभ्यास में ‘इंटीग्रेटेड बैटल ग्रुप्स’ हिस्सा लेंगे। इसमें नव गठित ’17 माउंटेन स्ट्राइक कोर’ के कौशल का परीक्षण किया जाएगा। इस अभ्यास में भारतीय वायुसेना भी हिस्सा लेगी।

इस अभ्यास में 15,000 सैन्य अधिकारी हिस्सा लेंगे। इस अभ्यास में C130J सुपर हर्कुलस, AN32 तथा C17 का उपयोग भी किया जायेगा।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Month:

Tags: , , , ,

Advertisement