अज़रबैजान

उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू गुटनिरपेक्ष आन्दोलन के 18वें राष्ट्र प्रमुखों के शिखर सम्मेलन में भारतीय प्रतिनिधिमंडल का प्रतिनिधित्व करेंगे

उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू  गुटनिरपेक्ष आन्दोलन के 18वें राष्ट्र प्रमुखों के शिखर सम्मेलन में भारतीय प्रतिनिधिमंडल का प्रतिनिधित्व करेंगे।

गुट निरपेक्ष आन्दोलन (NAM) शिखर सम्मेलन 2019 का आयोजन अज़रबैजान के बाकू में किया जायेगा। इस शिखर सम्मेलन का आयोजन 25-26 अक्टूबर, 2019 के दौरान किया जायेगा। 18वें NAM शिखर सम्मेलन से पहले मंत्रीस्तरीय बैठकें तथा वरिष्ठ अधिकारियों की बैठकें आयोजित की जायेंगी।

गुट निरपेक्ष आंदोलन

गुट निरपेक्ष आंदोलन की आन्दोलन 1961 में बेलग्रेड में की गयी थी, इसमें भारत के तत्कालीन प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरु तथा यूगोस्लाविया के राष्ट्रपति जोसिप ब्रोज़ टिटो ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी। यह शीत युद्ध के दौरान अस्तित्व में आया था, इसका उद्देश्य नव स्वतंत्र देशों को किसी गुट (अमेरिका व सोवियत संघ) में शामिल होने के बजाय तटस्थ रखना था। गुट निरपेक्ष आन्दोलन के 120 सदस्य तथा 17 पर्यवेक्षक हैं।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , , , ,

भारत और अज़रबैजान ने व्यापारिक, आर्थिक व विज्ञान तथा टेक्नोलॉजी सहयोग के लिए प्रोटोकॉल पर हस्ताक्षर किये

भारत और अज़रबैजान ने व्यापारिक, आर्थिक व विज्ञान तथा टेक्नोलॉजी सहयोग के लिए प्रोटोकॉल पर हस्ताक्षर किये। इस प्रोटोकॉल पर व्यापारिक, आर्थिक व विज्ञान तथा टेक्नोलॉजी सहयोग पर भारत-अज़रबैजान अंतरसरकारी आयोग (IA-IGC) की पांचवी बैठक के दौरान हस्ताक्षर किये गये। इस बैठक का आयोजन 11-12 अक्टूबर, 2018 को नई दिल्ली में किया गया था। इस बैठक की अध्यक्षता केन्द्रीय वाणिज्य व उद्योग  तथा नागरिक विमानन मंत्री सुरेश प्रभु तथा अज़रबैजान के पारिस्थितिकी व प्राकृतिक संसाधन मंत्री मुख़्तार बाब्येव ने की।

मुख्य बिंदु

इस बैठक के दौरान दोनों देशों ने वर्तमान आर्थिक स्थिति तथा द्विपक्षिय व्यापार, निवेश तथा विभिन्न क्षेत्रों में सहयोग की स्थिति का अवलोकन किया। इस दौरान दोनों देशों ने व्यापार व निवेश, उर्जा व हाइड्रोकार्बन, परिवहन, सूक्ष्म लघु व मध्यम उद्योग, कृषि, खाद्य सुरक्षा व पर्यावरण सुरक्षा, पर्यटन, संस्कृति, स्वास्थ्य व फार्मास्यूटिकल, अन्तरिक्ष टेक्नोलॉजी, शिक्षा व वैज्ञानिक शोध, रसायन व पेट्रोकेमिकल तथा खनन के क्षेत्र में सहयोग को मज़बूत करने पर बल दिया।

इस बैठक में दोनों देशों ने स्वीकार किया कि दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय व्यापार आपेक्षित स्तर से कम है, इसलिए व्यापार व निवेश को बढ़ावा देने की आवश्यकता है। जनवरी-अगस्त, 2018 में दोनों देशों के बीच 657.9 मिलियन डॉलर का व्यापार हुआ था। दोनों देशों के व्यापारिक संबंधों को मज़बूत बनाने के लिए कदम उठाने का समर्थन किया।  दोनों देश व्यापारिक मेलों, प्रदर्शनियों, सम्मेलनों तथा अन्य बिज़नस इवेंट्स के बारे में एक-दूसरे से सूचना का आदान-प्रदान करेंगे। भारत-अज़रबैजान अंतरसरकारी आयोग (IA-IGC) की अगली बैठक का आयोजन अज़रबैजान की  राजधानी बाकू में किया जायेगा।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , ,

Advertisement