आयुष मंत्रालय

आयुष मंत्रालय ने “आयुष ग्रिड” और “राष्ट्रीय आयुर्वेद रुग्णता संहिता” को विकसित किया

6 मार्च, 2020 को आयुष मंत्रालय ने आयुष ग्रिड नामक डिजिटल प्लेटफॉर्म लांच किया। यह ग्रिड आयुष अस्पतालों और प्रयोगशालाओं से जुड़ी सुविधाएं प्रदान करता है और पारंपरिक स्वास्थ्य देखभाल को बढ़ावा देता है।

आयुष ग्रिड

भारत में 12,500 से अधिक आयुष केंद्र हैं। “आयुष ग्रिड” प्लेटफार्म का उद्देश्य पूरे आयुष सेक्टर को डिजिटल बनाना है। आयुष मंत्रालय ने आयुष अस्पताल सूचना प्रबंधन प्रणाली, योग लोकेटर एप्लिकेशन, टेली-मेडिसिन, केस रजिस्ट्री पोर्टल, भुवन एप्लिकेशन लॉन्च की हैं। इन परियोजनाओं को बाद में आयुष ग्रिड के साथ जोड़ा जायेगा।

राष्ट्रीय आयुर्वेद रुग्णता संहिता (National Ayurveda Morbidity Codes)

आयुष मंत्रालय ने राष्ट्रीय आयुर्वेद रुग्णता संहिता विकसित की है। यह संहिता आयुर्वेद में वर्णित रोगों को वर्गीकृत करती है। इसके पहले चरण में 4 रोग स्थितियों की पहचान की गई है, जिनके नाम हैं कास, कुष्ठ, ज्वार और श्वास।

आयुष : आयुष्मान भारत की रीढ़

आयुष मंत्रालय, आयुष्मान भारत योजना की रीढ़ है। भारत सरकार ने इस योजना के तहत क्रॉस-पैथी निर्धारित की है। आयुष मंत्रालय ने पारंपरिक ज्ञान डिजिटल लाइब्रेरी स्थापित करने के लिए वैज्ञानिक और औद्योगिक अनुसंधान परिषद के साथ भी सहयोग किया है।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , , , , , , ,

आयुष मंत्रालय तथा CSIR ने MoU पर हस्ताक्षर किये

आयुष मंत्रालय तथा वैज्ञानिक व औद्योगिक अनुसन्धान परिषद् (CSIR) ने अनुसन्धान तथा शिक्षा के क्षेत्र में सहयोग के लिए MoU पर हस्ताक्षर किये।

मुख्य बिंदु

इस MoU के तहत दोनों संगठन निम्नलिखित कार्य के लिए सहयोग करेंगे :

  • मूलभूत अनुसन्धान
  • आयुष से सम्बंधित निदान उपकरण, माइक्रोबायोम लिंकिंग, बहु-औषधीय फार्मूलेशन तथा मानकीकरण।
  • भारतीय औषधि पद्धति के साथ आधुनिक वैज्ञानिक पद्धतियों का एकीकरण।
  • भारतीय चिकित्सा पद्धति  से सम्बंधित प्राचीन ज्ञान के संरक्षण के लिए सहयोग।
  • आयुर्वेद, सिद्ध तथा यूनानी में अंतर्राष्ट्रीय मानकीकृत शब्दावली का विकास।

आयुष

भारत में प्राकृतिक चिकित्सा का इतिहास काफी पुराना है, भारत में 5000 वर्षों से भी अधिक समय से प्राकृतिक व वैज्ञानिक चिकित्सा प्रणाली का उपयोग किया जाता रहा है। आयुष का पूर्ण संस्करण आयुर्वेद, योग, नेचुरोपैथी, यूनानी, सिद्ध और होमियोपैथी है (AYUSH : Ayurveda, Yoga and Naturopathy, Unani, Siddha and  Homoeopathy)।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , ,

Advertisement