ओडिशा की जीवन संपर्क परियोजना

ओडिशा की जीवन संपर्क परियोजना

ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने हाल ही में आदिवासी मेला-2019 में जीवन संपर्क परियोजना की घोषणा की।

वार्षिक आदिवासी मेले में जनजातीय समुदाय की कला, संस्कृति, परम्परा तथा संगीत का प्रदर्शन किया जाता है। इसका उद्देश्य आदिवासियों के लिए आजीविका उपलब्ध करवाना है।

जीवन संपर्क परियोजना

जीवन संपर्क परियोजना को यूनिसेफ की सहायता से लागू किया जायेगा। इस परियोजना के माध्यम से ओडिशा के जनजातीय लोगों को राज्य सरकार द्वारा बच्चों तथा महिलाओं के कल्याण के लिए चलायी जा रही योजनाओं से अवगत करवाया जायेगा। इस परियोजना के फोकस क्षेत्र हैं : कौशल विकास, समुदायों का सशक्तिकरण, समुहों के बीच आपसी सहयोग।

विशेष रूप से कमज़ोर जनजातीय समूह (PVTG)

विशेष रूप से कमज़ोर जनजातीय समूह (PVTG) की शुरुआत कम विकास वाले कुछ एक समुदायों के लिए की गयी थी। 1975 में ढेबर आयोग के अनुशंसा के बाद PVTG की अलग श्रेणी की स्थापना की गयी थी। PVTG को केन्द्रीय जनजातीय मामले मंत्रालय द्वारा जारी अनुशंसाओं के आधार पर चिन्हित किया जाता है। ओडिशा में सर्वाधिक PVTG पाए जाते हैं।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , , , ,

Advertisement