ओडिशा

‘ड्रिंक फ्रॉम टैप मिशन’

ओडिशा की राज्य सरकार ने राज्य के प्रत्येक घर को सुरक्षित पेयजल उपलब्ध कराने के लिए UNICEF (संयुक्त राष्ट्र बाल कोष) के साथ एक पत्र पर हस्ताक्षर किए हैं। राज्य के आवास और शहरी विकास विभाग (HUDD) द्वारा LoU पर 24 घंटे सुरक्षित पेयजल प्रदान करने के लिए हस्ताक्षर किए गए थे। प्रोजेक्ट को ‘ड्रिंक फ्रॉम टैप मिशन’ नाम दिया गया है।

‘ड्रिंक फ्रॉम टैप मिशन’

यह परियोजना यूनिसेफ से वित्तीय सहायता के साथ शुरू की जा रही है, जिससे राज्य सरकार के लक्ष्य को प्राप्त करने में आशातीत मदद मिलेगी।

कार्यान्वयन

राज्य में हर घर को सुरक्षित पेयजल मुहैया कराना ओडिशा सरकार की शीर्ष प्राथमिकताओं में से एक है, इस परियोजना को ओडिशा के पुरी और खुर्दा जिले के 22,000 परिवारों और लगभग 1.2 लाख लोगों के लिए शुरू किया जाएगा। परियोजना को भुवनेश्वर के पांच और पुरी के दो क्षेत्रों में भी लागू किया जाएगा और मार्च 2020 तक पूरा कर लिया जाएगा। इसे अगले चरणों में राज्य के अन्य भागों में विस्तारित किया जाएगा।

कार्यक्रम के कार्यान्वयन के लिए महिला स्वयं सहायता समूह (SHG) भी प्रशिक्षित किए जाएंगे।

Categories:

Month:

Tags: , , , ,

ओडिशा  सरकार ने पद्मश्री पुरस्कार विजेताओं को 10,000 रूपए का मासिक भत्ता दिए जाने की घोषणा की

ओडिशा सरकार ने आर्थिक रूप से कमज़ोर समुदाय के पद्मश्री पुरस्कार विजेताओं को 10,000 रूपए का मासिक भत्ता दिए जाने की घोषणा की। दरअसल हाल ही में मीडिया में ऐसी कई रिपोर्ट्स आई थी जिसमे बताया गया था कि राज्य में कई पद्मश्री पुरस्कार विजेताओं की आर्थिक स्थिति काफी दयनीय है। अब तक ओडिशा से 84 लोगों ने पद्मश्री पुरस्कार जीते हैं, उनमे से 45 लोगों का निधन हो चुका है। शेष 39 पद्मश्री पुरस्कार विजेताओं में से कई लोगों की आर्थिक स्थिति काफी दयनीय है।

पद्मश्री

पद्मश्री भारत का चौथा सर्वोच्च नागरिक सम्मान है, यह प्रतिवर्ष भारत सरकार द्वारा गणतंत्र दिवस के अवसर पर प्रदान किया जाता है। पद्म पुरस्कारों की स्थापना 1954 में देश के नागरिकों के बेहतरीन कार्य को सम्मानित करने के लिए की गयी थी, यह पुरस्कार कला, शिक्षा, उद्योग, साहित्य, विज्ञान, खेल, सामाजिक कार्य इत्यादि के क्षेत्र में बेहतरीन योगदान के लिए दिए जाते हैं। अब तक 2840 पद्मश्री पुरस्कार प्रदान किये जा चुके हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , ,

Advertisement