ओडिशा

ओडिशा ने लॉकडाउन की अवधि को 30 अप्रैल तक बढ़ाया

ओडिशा सरकार ने कोरोनावायरस के मामलों में वृद्धि को देखते हुए राज्य में लॉकडाउन की अवधि को 14 अप्रैल से बढ़ाकर 30 अप्रैल तक कर दिया है। इसके अलावा राज्य के शैक्षणिक संस्थान 17 जून तक बंद रहेंगे। ओडिशा के मुख्यमंत्री श्री नवीन पटनायक ने राज्य में एक लाख रैपिड टेस्ट करने का आश्वासन भी दिया है।

लॉकडाउन

जब लोगों के एकत्रित होने पर पर प्रतिबंध लगाया जाता है तो उस कार्रवाई को लॉकडाउन कहा जाता है। हालांकि लॉकडाउन में आवश्यक सेवाएं उपलब्ध रहेंगी। लॉकडाउन को एक कलेक्टर या मुख्य चिकित्सा अधिकारी द्वारा लागू किया जा सकता। मुख्य चिकित्सा अधिकारी महामारी रोग अधिनियम, 1897 के अनुसार लॉक डाउन लागू कर सकते हैं। लॉक डाउन के साथ पांच या अधिक लोगों को इकट्ठा करने की अनुमति नहीं है।

लॉक डाउन के दौरान पुलिस के पास उस व्यक्ति को गिरफ्तार करने और धारा 271 के तहत मामला दर्ज करने का अधिकार है, जो संगरोध (quarantine) से भागने की कोशिश करता है।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , ,

मो प्रतिवा : ओडिशा-यूनिसेफ ने बच्चों के लिए कायर्क्रम लांच किया

ओडिशा सरकार ने हाल ही में यूनिसेफ के साथ मिलकर “मो प्रतिवा” कार्यक्रम शुरू किया है।

मुख्य बिंदु

बच्चों को ऑनलाइन प्रतियोगिताओं में भाग लेने के लिए यह कार्यक्रम शुरू किया गया है, बच्चे नारा लेखन, ड्राइंग, लघु कथा लेखन, पेंटिंग इत्यादि प्रतियोगिताओं में हिस्सा ले सकते हैं। इस कार्यक्रम के तहत बच्चों को अपने कामों को अपलोड करना होगा और उन्हें हर हफ्ते प्रमाण पत्र प्रदान किया जाएगा। इस प्रतियोगिता में 5 से 18 वर्ष की आयु के बच्चे हिस्सा ले सकते हैं। प्रतियोगिता को दो विषयों के तहत आयोजित किया जाना है

थीम : COVID-19 के दौरान एक युवा नागरिक के रूप में मेरी जिम्मेदारी और लॉकडाउन के दौरान घर पर रहना

यूनिसेफ (United Nations Children’s Emergency Fund)

यूनिसेफ बाल अधिकारों के लिए संयुक्त राष्ट्र की एजेंसी है। इसकी स्थापना 11  दिसम्बर, 1946  को हुई  थी। इसका मुख्यालय अमेरिका के न्यूयॉर्क में स्थित है। वर्तमान में यूनिसेफ के अध्यक्ष तोरे हेट्रेम हैं। यह संस्था विश्व भर में बच्चों की शिक्षा, स्वास्थ्य तथा कल्याण के लिए कार्य करती है।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month: /

Tags: , , , , ,

Advertisement