कामोव हेलिकॉप्टर

रक्षा मंत्रालय ने कामोव-31 हेलिकॉप्टर की खरीद को मंज़ूरी दी

केन्द्रीय रक्षा मंत्रालय ने रूस से 10 कामोव-31 हेलिकॉप्टर खरीदे जाने के प्रस्ताव को मंज़ूरी दी है, यह 10 हेलिकॉप्टर 3600 करोड़ रुपये में खरीदे जायेंगे। गौरतलब है कि यह हेलिकॉप्टर भारतीय नौसेना के लिए खरीदे जायेंगे। यह निर्णय रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण की अध्यक्षता में रक्षा अधिग्रहण परिषद् की बैठक में लिया गया।

भारतीय नौसेना के पास पहले से 12 कामोव-31 हेलिकॉप्टर मौजूद हैं। पनडुब्बी रोधी ऑपरेशन के लिए नौसेना के पास कामोव-28 हेलिकॉप्टर मौजूद हैं।

रक्षा अधिग्रहण परिषद् (DAC)

रक्षा अधिग्रहण परिषद् का गठन सैन्य सामान शीघ्रता से प्राप्त करने के लिए वर्ष 2001 में सरकार द्वारा किया गया था। इसकी अध्यक्षता रक्षा मंत्री द्वारा की जाती है। DAC सैन्य सामान के अधिग्रहण के लिए दिशानिर्देश  भी जारी करता है।

कामोव-31 हेलिकॉप्टर

कामोव-31 हेलिकॉप्टर एक रूसी हेलिकॉप्टर है, इसका इस्तेमाल रूस, चीन तथा भारत जैसे देश करते हैं। इसमें एक बड़ा ऐन्टेना तथा अर्ली-वार्निंग राडार लगा होता है। कामोव-31 में पहली उड़ान 1987 में भरी थी। 1995 में इसका पूर्ण स्वरुप प्रसुत किया गया। इसका एयरफ्रेम कामोव-का-27 पर आधारित है।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , , ,

Advertisement