कारपोरेशन बैंक

तीन बैंकों को PCA फ्रेमवर्क से हटाया गया

भारतीय रिज़र्व बैंक ने इलाहबाद बैंक, कारपोरेशन बैंक तथा धनलक्ष्मी बैंक को PCA फ्रेमवर्क से हटा दिया है। अब यह बैंक पुनः ऋण प्रदान  सम्बन्धी कार्य कर सकेंगे।

त्वरित सुधार क्रिया (Prompt Corrective Action : PCA)

PCA फ्रेमवर्क भारतीय रिज़र्व बैंक द्वारा बैंकों के प्रदर्शन की मोनिटरिंग के लिए शुरू किया गया था। इससे बैंकों की स्थित दर्शाने वाले सूचकों से महत्वपूर्ण जानकारी मिलती है। PCA फ्रेमवर्क बैंकों पर तब लागू किया जाता है जब वे तीन नियामक ट्रिगर में से किसी एक की अवहेलना करते हैं। यह तीन नियामक ट्रिगर पूँजी और जोखिम वाली परिसंपत्ति का अनुपात, शुद्ध गैर-क्रियाशील परिसंपत्तियां (NPA) तथा परिसंपत्ति पर लाभ हैं। इन ट्रिगर के अवहेलना करने पर बैंकों पर शाखा विस्तार, लाभांश, ऋण देने पर नियंत्रण इत्यादि पाबंदियां लगायी जाती हैं।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , , , ,

पी.वी. भारती को कारपोरेशन बैंक का नया एमडी और सीईओ नियुक्त किया गया

24 दिसम्बर, 2018 को कार्मिक मंत्रालय द्वारा जारी आदेश के अनुसार पी.वी. भारत को कारपोरेशन बैंक का नया मैनेजिंग डायरेक्टर तथा मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) नियुक्त किया गया।

वे 1 फरवरी, 2019 को कार्यभार संभालेंगी, वे 31 मार्च, 2020 तक इस पद पर बनी रहेंगी। वे वर्तमान में कैनरा बैंक की कार्यकारी निदेशक हैं।

इसके अतिरिक्त कार्मिक मंत्रालय ने एक अन्य आदेश के द्वारा बिरुपाक्ष मिश्रा और बालकृष्ण अल्से को कारपोरेशन बैंक तथा ओरिएण्टल बैंक ऑफ़ कॉमर्स का कार्यकारी निदेशक नियुक्त किया है। वर्तमान में बिरुपाक्ष मिश्र सेंट्रल बैंक ऑफ़ इंडिया में जनरल मेनेजर के पद पर कार्यरत्त हैं जबकि बालकृष्ण अल्से कारपोरेशन बैंक में जनरल मेनेजर के पद पर कार्यरत्त हैं।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

Categories:

Month:

Tags: , , , , , ,

Advertisement